Browsing Tag

उसकी उतनी भागीदारी

आरक्षित वर्ग की अति पिछड़ी जातियाँ वही सोचती हैं जो ब्राह्मणवाद चाहता है

अगर यह जानने का प्रयास हो कि भारत में वह कौन सा वर्ग है, जो सबके निशाने पर रहता है तो शायद उसका सही जवाब होगा आरक्षित वर्ग की अग्रणी…
Read More...