‘मोट्यारिन’ के शब्द, डायरी (26 मई, 2022) 

 शब्द मुझे बेहद प्यारे लगते हैं। इसलिए प्रयास करता हूं कि हर दिन कम से कम एक शब्द अपने शब्दकोश में अवश्य जोड़ूं। फिर शब्द किसी भी भाषा व…
Read More...

इफको कंपनी का दलित-बहुजन विरोधी चेहरा

पिछले साल इफको कई वजहों से चर्चा में रहा। पहला कारण पिछले साल जनवरी में कथाकार रणेंद्र को साल 2020 का 'इफको श्री लाल शुक्ल स्मृति साहित्य…
Read More...

सीता, द्रौपदी और जोधा बाई, डायरी (25 मई, 2022) 

सपने मेरे लिए अत्यंत ही महत्वपूर्ण हैं। बाजदफा ही ऐसा कोई सपना आता है, जिनके आने पर मैं खुद की कमियों का आकलन करने लगता हूं।…
Read More...

इस अँधेरे के दौर में प्रेम की शमा को संजोना मुमकिन है

मेरे लिए ये फ़क्र की बात है कि आज यहाँ इंदौर में IPTA के ढाई आखर प्रेम की सांस्कृतिक यात्रा के समापन समारोह में मैं जन नाट्य मंच (जनम,…
Read More...

महाराष्ट्र के दलित लेखकों से प्रेरणा लें बहुजन बुद्धिजीवी

ज्ञानवापी मस्जिद में मिले शिवलिंग पर खास नजरिये से टिप्पणी करने के कारण 20 मई की रात गिरफ्तार हुए आंबेडकरनामा के एडिटर, इतिहास के प्रोफ़ेसर…
Read More...

सियासत, समाज और इश्क, डायरी (24 मई, 2022)

 सियासत के मामले में मेरी एक राय यथावत है कि सियासत करनेवाले कभी सीधी रेखा का अनुगमन नहीं करते। सियासत ऐसे की भी नहीं जाती है।…
Read More...

केंद्र और राज्य के बीच फंसी जनता, पेट्रोलियम कंपनियां ले रही हैं मजा

केंद्र सरकार ने एक बार फिर से डीजल और पेट्रोल से एक्साइज ड्यूटी कम कर, गेंद राज्यों के पाले में फेंक अपील की है कि राज्य सरकारें भी अपना वैट…
Read More...

सुप्रीम कोर्ट की नीयत में खोट- संदर्भ : बथानी टोला नरसंहार (डायरी 23 मई, 2022)

निस्संदेह देश जब विभाजत हुआ था तब बहुत कुछ हुआ। इस संबंध में खूब सारा साहित्य उपलब्ध है। दोनों तरफ के लोगों को परेशानियां हुईं और भयानक…
Read More...

कश्मीर में शांति कैसे स्थापित हो?

पाकिस्तान में प्रशिक्षित और पाक-समर्थित आतंकवादी कश्मीर घाटी में लंबे समय से सक्रिय हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नोटबंदी की घोषणा करते…
Read More...