Browsing Category

सामाजिक न्याय

हत्या के विरुद्ध ज्ञापन दिया

महिला मुद्दों और लैंगिक मुद्दों पर काम करने वाले संगठन 'दख़ल ने आज जिला मुख्यालय पंहुचकर मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन पत्र सौंपा। छात्राओं…
Read More...

जब राष्ट्रपति को जगन्नाथ मंदिर में जाने से रोका तब कहाँ था सनातन धर्म?

प्रो.चंद्रशेखर पर अँगुली उठाने वाले सनातनियों से खुली बहस की चुनौती लखनऊ में भारतीय ओबीसी महासभा के राष्ट्रीय…
Read More...

शरद यादव की महत्ता और प्रासंगिकता के कई आयाम हैं

समाजवादी आन्दोलन की उपज शरद यादव का व्यक्तित्व-कृतित्व बिल्कुल खुला था। उनकी कथनी-करनी में कोई अंतर नहीं दिखाई दिया।वे शुरू से ही चौका और…
Read More...

केसी सुलेख जिन्होंने संविधान सभा में बाबा साहब का ऐतिहासिक भाषण सुना था

25 नवंबर, 1949 को बाबा साहब अंबेडकर संविधान सभा में अपने दिल से निकली बात रख रहे थे कि आज हमने राजनैतिक जीवन में तो बराबरी प्राप्त कर ली,…
Read More...

सामाजिक न्याय और समता के लिए लड़ता रहा बीसवीं सदी का यह लोककवि

सामाजिक न्याय सभी मनुष्यों को समान मानने पर आधारित है। इसके अनुसार किसी भी व्यक्ति के साथ सामाजिक, आर्थिक, राजनैतिक, धार्मिक आधार पर किसी भी…
Read More...

कितना पूरा हुआ बालिका शिक्षा पर सावित्री बाई फुले का सपना?

सावित्रीबाई फुले भारत की प्रथम महिला शिक्षिका, प्रथम शिक्षाविद्, समाज सुधारक और मराठी लेखक व कवियत्री थीं। उन्होंने उन्नीसवीं सदी में अपने…
Read More...

लैंगिक समानता बनाम मर्दानगी का बोझ

'जेंडर' एक सामाजिक-सांस्कृतिक शब्द है, जो समाज में 'पुरुषों' और 'महिलाओं' के कार्यों और व्यवहारों को परिभाषित करता हैं। यह एक ऐसा मानव…
Read More...

मेहनत और कारीगरी का काम करने वालों को कभी इज्जत नहीं मिली

उनको सब लोग नंदा भैया कहते हैं। उनकी उम्र अस्सी के करीब हो चुकी है। और वे अपनी पचास साल पुरानी साइकिल से यहाँ आते हैं, साइकिल दिखने में…
Read More...

कैसे डॉ. अंबेडकर ने मेरी जीवनधारा बदली

आज 6 दिसंबर है। आज के दिन डॉ. अंबेडकर का परिनिर्वाण हुआ था। विचारों की एक मशाल से लाखों-करोडो़ं शूद्रों को मानसिक गुलामी से मुक्ति मिली। आज…
Read More...

अम्बेडकर के लिए काम कीजिये वर्ना लोग भूल जाएँगे

आज 6 दिसंबर है। 1956 में इसी दिन समय ठहर सा गया था, जब सदियों के दबे-कुचले अछूतों, सताए व दबाये गए लोगों तथा समाज के तिरस्कृत वर्ग के प्रबल…
Read More...