Browsing Tag

subhash chandr kushwaha

सत्ता चौरी चौरा शताब्दी वर्ष मनाकर, बहुजनों के नायकत्व में लड़े गए सामंत विरोधी चौरी-चौरा विद्रोह का…

राजे-रजवाड़े तो सदा से निम्नजातियों को असभ्य, डाकू, अपराधी या लुटेरे ही मानते थे (चौथा और अंतिम हिस्सा ) आपकी कहानियों में…
Read More...

जाति गणना के बिना जाति असमानता का पता नहीं लगाया जा सकता

जातिगणना की मांग जोर पकड़ने लगी है। पक्ष और विपक्ष में दावे अपनी जगह हैं और जनगणना जैसी जरूरी और वैज्ञानिक प्रक्रिया से समाजिक संदर्भों का…
Read More...