Thursday, July 25, 2024
होमTagsसंसद

TAG

संसद

लालमणि को ठोकर मारकर बन गए श्रीनाथ

दौर कोई भी हो दिखावा और आडम्बर इंसानी फितरत का एक जरुरी हिस्सा बन गया है। शादी हो या कोई त्यौहार या कोई भी...

पत्रकारिता, संसद, न्यायपालिका और बेपरवाह हुक्मरान (डायरी, 16 अगस्त, 2021)  

प्रधानमंत्री के पद पर बैठा व्यक्ति बेहद महत्वपूर्ण होता है। उसे अपना अपना महत्व बनाए रखना चाहिए। इसके लिए उसका उदार होना, सौम्य होना...

खतरे में है देश की संप्रभुता  डायरी (28 जुलाई, 2021) 

समय बहुत मूल्यवान होता है। इसकी कीमत का कोई आकलन नहीं हो सकता। ऐसा मेरा मानना है। वहीं मैं यह भी मानता हूं कि...

ताज़ा ख़बरें