Browsing Tag

baba saheb

हिंदुत्ववादियों से मुक्त करने की ज़रुरत है बोधगया को

क्या कारण है कि बोधगया जहां से बुद्ध को ज्ञान मिला उस नगरी पर हिंदुत्ववादियों और आरएसएस ने कब्जा कर लिया है। कुछ तो बकायदा चीवर धारण कर उनके…
Read More...

आखिर कौन करता है मुसहरों के साथ भेदभाव

श्रीमती घेवना देवी, मुसहर समाज से आती हैं और उनके साथ यह साक्षात्कार कुछ वर्ष पूर्व लिया गया था। इस साक्षात्कार में कुछ पात्रों के नाम भले…
Read More...

अरविंद पासवान परिवर्तनवादी कवि हैं – दामोदर मोरे

‘मैं उसे अंबेडकरवादी कहता हूं जो संघर्ष के मैदान में बिगुल बजाता हो। जिसमें संघर्ष का संगीत हो, जिसमें जातिभेद की जंजीरें टूटने की झंकार हो।…
Read More...