गाँव देस आज 16 जुलाई

अमन विश्वकर्मा/ अपर्णा

1 254

 किसान आंदोलन को लेकर भाजपा नेताओं का रवैया लगातार आपत्तिजनक रहा है। उन्होंने किसान आंदोलन को लेकर लगातार गलतबयानी की है और यथासंभव किसानों के मान-सम्मान पर हमला किया है। विगत दिनों हिसार में बीजेपी नेता मनीष ग्रोवर ने महिलाओं को लेकर अश्लील इशारे किए जिसके खिलाफ महिला किसान नेताओं ने मोर्चा खोल दिया। उन्होंने ग्रोवर के घर से थोड़ी दूरी पर तम्बू गाड़ दिया और भारी संख्या में धरने पर बैठ गईं । उनका कहना है कि ग्रोवर को आकर सार्वजनिक माफी मांगनी होगी। इससे डरकर मनीष ग्रोवर ने मुंह छिपा लिया है । महिलाएं चार दिन से डटी हुई हैं। अब ग्रोवर के इस अभद्र व्यवहार को लेकर दूसरे प्रदेशों की महिलाएं भी मोर्चा खोलेंगी।

अंततः भाजपा नेता मनीष ग्रोवर किसानों से माफ़ी मांगी

महाराष्ट्र के नासिक शहर में भारत सरकार की सरकारी करेंसी नोट प्रेस है। वहाँ से एक सनसनीखेज खबर आई है कि प्रेस से 5 लाख रुपये की चोरी हो गए हैं। यह जगह अनेक चक्रीय सुरक्षा घेरे में है इसलिए इस घटना से प्रशासन की चिंता बढ़ गई है। लेकिन इस संबंध में अभी तक कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है। अपने स्तर पर प्रशासन जांच में जुटा है कि पैसा कहां गया? चोरी गए सभी नोट 500 के हैं।बताया जा रहा है कि प्रिंटिंग प्रेस के साथ-साथ पुलिस भी चुप है। यहां साल भर में करीब ढाई हजार करोड़ के नोट छापे जाते हैं।

भाजपा कुशासन के खिलाफ विपक्ष का विरोध प्रदर्शन

एक

बलिया में भाजपा कुशासन के खिलाफ समाजवादी पार्टी ने प्रदर्शन किया।  ब्लाक प्रमुख एवं जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनावों में भाजपा सरकार द्वारा की गई धांधली के विरोध में जनपद के सभी तहसील मुख्यालयों पर सपा कार्यकर्ताओं ने जोरदार प्रदर्शन के साथ एसडीएम को राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन सौंपा। बलिया सदर तहसील क्षेत्र के कार्यकर्ताओं ने जिला कार्यालय से चलकर डॉ. बीआर अंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। वक्ताओं ने कहा कि इस सरकार में बढ़ती मंहगाई, बिगड़ती कानून व्यवस्था, नौजवानों की बेरोजगारी, काले कृषि कानून, महिलाओं से दुर्व्यवहार, स्वास्थ्य सेवाओं की बदहाली से आमजन परेशान है। मांग किया कि प्रदेश में जहां-जहां जिला पंचायत अध्यक्ष एवं ब्लाक प्रमुख चुनाव में जबरिया पर्चा नही भरने दिया गया, वहां पुन: नामांकन कराकर चुनाव कराया जाय। इस अवसर पर पूर्व मंत्री नारद राय, श्रीमती मंजू सिंह, संग्राम सिंह यादव, व्यास जी गोंड़, राजमंगल यादव, अजय यादव, दिनेश यादव, डा़ विश्राम यादव, लक्ष्मण गुप्ता, संजय उपाध्याय, मिठाई लाल भारती, राजन कन्नौजिया, जमाल आलम, बंशीधर यादव, अकमल नईम खां, रामजी गुप्ता, बरमेश्वर प्रधान, अजीत मिश्र, अनिल राय, शशिकान्त चतुर्वेदी, कामेश्वर सिंह, अजय शंकर यादव, पूना सिंह, विकेश सिंह सोनू, आशुतोष ओझा, रोहित चौबे, धनंजय सिंह विसेन, मिथिलेश सिंह, राजेश गोंड़, रविन्द्र नाथ यादव, परवेज रौशन, बीर लाल यादव, मिंटू खां, जलालुदीऩ, प्रभुनाथ पहलवान, बलिराम गुप्ता, शकील लोहिया, बृजेश मिश्र मंटु, श्रीकांत गिरी, जयपाल यादव, राकेश यादव, नितेष पाठक, अमित राय, देव कुमार चौबे, सतेंद्र यादव, अनिल तिवारी, दिग्विजय कुमार, भीम चौधरी, मकसूद, सगीर खां, मनोज ठाकुर, राज साहनी, रजी नईम, मोहित चौधरी, प्रियांशु तिवारी आदि मौजूद थे ।

दो

बेल्थरारोड। स्थानीय तहसील मुख्यालय पर सपा के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व विधायक गोरख पासवान के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को सरकार की जनविरोधी नीतियों के विरोध में 18 सूत्रीय ज्ञापन एसडीएम सर्वेश यादव को सौंपा। ज्ञापन में किसानों को उनकी फसलों का लाभकारी मूल्य दिए जाने, प्रदेश में किसानों के गन्ने का बकाया भुगतान तत्काल किए जाने, किसानों के ऊपर थोपे जा रहे काले कानून को समाप्त करने, बढ़ती महंगाई को नियंत्रित करने, डीजल-पेट्रोल, रसोई गैस के दाम कम करने आदि मांगें शामिल हैं । इस मौके पर इरफान अहमद, ममता चंद्रा, रुद्र प्रताप यादव, पूर्व ब्लाक प्रमुख विनय प्रकाश अंचल, शंभुनाथ आचार्य, विजय यादव, आनंद यादव, शमशाद बांसपारी, शुभम बरनवाल, सुनील कुमार टिंकू, राकेश यादव, रविंदर यादव, राम ध्यान यादव, अमलेश कन्नौजिया, राम लखन पासवान, प्रधान सज्जन पासवान आदि मौजूद थे । इसके पूर्व जुलूस रेलवे चौराहे से निकलकर सरकार विरोधी नारे लगाते तहसील मुख्यालय पर पहुंचा था।

तीन   

बैरिया। सपा कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को वृहद जुलूस निकाल कर राज्यपाल को सम्बोधित 14 सूत्रीय मांग पत्र एसडीएम प्रशान्त कुमार नायक को सौंपा। सपाईयों ने प्रदेश सरकार पर जिला पंचायत अध्यक्ष व ब्लाक प्रमुख के चुनाव में धांधली, गुंडई, सत्ता का दुररुपयोग व लोकतांत्रिक मर्यादाओं को तार-तार करने का आरोप लगाते हुए जमकर नारेबाजी की। वक्ताओं ने कहा कि प्रदेश में अपराध का ग्राफ बढ़ता जा रहा है। कानून व्यवस्था ध्वस्त है। सपा कार्यकर्ताओं का उत्पीड़न किया जा रहा है। उनके ऊपर फर्जी मुकदमे दर्ज कराये जा रहे हैं । यह सरकार जनहित के सभी मुद्दों पर फेल साबित हुई है। महिलाओं की आबरू एवं सुरक्षा खतरे में है। अब इस सरकार की विदाई का समय आ गया है। इसके पूर्व सपा कार्यकर्ता जुलूस निकाल कर तहसील के लिए मार्च किये, परन्तु रास्ते में ही बैरिया थानाध्यक्ष व क्षेत्राधिकारी ने भारी पुलिस बल के साथ उनको रोक दिया। इसे लेकर सपाइयों एवं पुलिस में नोक-झोंक भी हुई। इस अवसर पर पूर्व विधायक जयप्रकाश अंचल, सुबाष यादव, सूर्यभा सिंह, तारकेश्वर मिश्र, रामेश्वर पासवान, जयप्रकाश यादव मुन्ना, शैलेश सिंह, संजय नट, राजप्रताप यादव, उमेश यादव, काली चरण बिन्द, विजय कान्त सिंह, अजय सिंह, शिवशरण तिवारी, राम किशुन पासवान, बिरेन्द्र यादव, राजनारायण पासवान, राकेश वर्मा, राजकुमार पाण्डेय, अरविन्द तिवारी, अनूप वर्मा, चन्द्रशेखर, दिनेश यादव, मुबारक अली, सुरेश कन्नौजिया, रामबली यादव, अरूण सिंह, हीरा यादव, किसुन बिहारी गोड़, सत्येन्द्र यादव, सन्तोष यादव साधु आदि मौजूद रहे।

चार

बैरिया। सपा के वरिष्ट नेता सूर्यभान सिंह ने पत्रक देने के बाद कहा कि योगी सरकार हर मोर्चे पर विफल है। इस सरकार में विकास का अता-पता नही है। केवल गुण्डागर्दी के सहारे सरकार चल रही है, जो लोकतन्त्र के लिए घातक है। इस बात को जनता जान चुकी है। 2022 में जनता इसका जबाब देगी और प्रदेश में अखिलेश यादव की सरकार बनेगी। वगैर सपा के प्रदेश का भला होने वाला नही है। सरकार बनने के बाद फिर से उत्तर प्रदेश में विकास की गंगा बहेगी। क्योंकि विकास की चाभी व सोच अखिलेश यादव के पास है।

पाँच

सिकंदरपुर। सपा नेता व पूर्व मंत्री मो़ जियाउद्दीन रिजवी के नेतृत्व में सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने केन्द्र एवं प्रदेश सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ तहसील घेराव का कार्यक्रम बस स्टेशन चौराहा से शुरू किया। पुलिस पहले से सतर्क थी। पुलिस ने उनको चौराहा से आगे बढ़ने नहीं दिया। पूर्व मंत्री मोहम्मद रिजवी सहित कार्यकर्ताओं को बसों में भरकर पुलिस थाने लेकर चली गई। इस दौरान काफी गहमा-गहमी का माहौल रहा।

सपा नेता व पूर्व मंत्री मो़ जियाउद्दीन रिजवी और सपा के कार्यकर्ता केंद्र व प्रदेश सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ ज्ञापन देते हुए

गिरफ्तारी देते समय पूर्व मंत्री जियाउद्दीन रिजवी ने कहा कि हमें जेल भेजिए। हमें जमानत नहीं चाहिए। आम जनता महंगाई से कराह रही है। भ्रष्टाचार का कोई हिसाब नहीं है। गरीब जनता हैरान व परेशान है। कोई गरीबों की सुनने के लिए तैयार नहीं है। इनकी लड़ाई समाजवादी पार्टी मजबूती से लड़ेगी और आने वाले 2022 के चुनाव में इनको मत के माध्यम से जवाब देने का काम करेगी। इस अवसर पर विवेक सिंह, रामाशंकर विद्यार्थी, अनंत मिश्रा, रामजी यादव, मुन्नी लाल यादव, डा. मदन राय, भीष्म यादव, अतुलेश यादव, जितेश सोनी, राजू जायसवाल, तारिक अजीज, रोहित वर्मा, सुमन्त तिवारी, फुन्नू राय, राजेन्द्र चौधरी, शिव जी त्यागी, बूढा यादव आदि उपस्थित रहे।

छः

रसड़ा। पूर्व मंत्री सनातन पांडेय के नेतृत्व में सपा कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को तहसील मुख्यालय पर जोरदार प्रदर्शन किया। तत्पश्चात एसडीएम प्रभुदयाल को ज्ञापन सौंपा। वक्ताओं ने कहा कि केन्द्र एवं प्रदेश में जुमलेबाजों की सरकार चल रही है। लोगों का ध्यान भटका कर अपना उल्लू सीधा किया जा रहा है। कानून व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त है। डीजल-पेट्रोल एवं रसोई गैस के दाम आसमान छू रहे हैं । महंगाई एवं भ्रष्टाचार चरम पर है। चारों तरफ हाहाकार मचा है। इस मौके पर संजय यादव, चंद्रशेखर सिंह, बबलू उर्फ बद्दुरदुजा, रामेश्वर पांडे, बीरबल राम, विजय शंकर यादव, बिट्टू तिवारी, नजमुल होदा उर्फ मोनू, शमशूल होदा उर्फ रिंक, जहीर इराकी, जहीर अंसारी, गुलजार अहमद, रविंदर यादव, राम सिंगार यादव, विजय प्रजापति, नीलम भारती, कमलेश कुमार भारती, सुशीला राजभर, हरेराम राजभर, सौरभ यादव, ब्लाक प्रमुख आदित्य गर्ग, कौशल, अभय कुमार आदि मौजूद रहे।

सात

मीरजापुर।  समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के आह्वान पर उत्तर प्रदेश सरकार के खिलाफ समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष देवी प्रसाद चौधरी के नेतृत्व में सपा कार्यकर्ताओं ने बीएलजे ग्राउंड पर धरना प्रदर्शन कर प्रदेश सरकार के खिलाफ हमला बोलते हुए नेताओं ने कहा कि जिला पंचायत अध्यक्ष व ब्लाक प्रमुख चुनाव में भाजपा व प्रदेश सरकार में बैठे लोगों ने धांधली कराकर लोकतंत्र की हत्या की है। इस मौके पर राष्ट्रपति को सम्बोधित 14 सूत्री ज्ञापन अपर जिलाधिकारी उदय प्रताप सिंह व उपजिलाधिकारी को जिलाध्यक्ष देवी प्रसाद चौधरी ने सौंपा। इस अवसर पर सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ताओं ने बोल मुलायम हल्ला बोल, का नारा लगाया। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष देवी प्रसाद चौधरी ने कहा कि जिला पंचायत अध्यक्ष व ब्लाक प्रमुख चुनाव में भाजपा व प्रदेश सरकार के लोगों ने धांधली कर चुनाव जीतने का काम किया है। उत्तर प्रदेश की जनता इनके मंसूबों को कामयाब नहीं होने देगी। 2022 के विधान सभा चुनाव में समाजवादी पार्टी 351 सीटों से अधिक जीतकर सरकार बनाने का काम करेगी। सदर तहसील पर धरना प्रदर्शन में पूर्व जिलाध्यक्ष शिवशंकर सिंह यादव, अजय यादव, अशोक यादव, आशीष यादव, रोहित शुक्ला लल्लू, जवाहर लाल मौर्या, डा0 विनोद बिन्द, रामगोपाल बिन्द, संजय यादव, सुनील पाण्डेय, गिरधारी पाल, सुभाष पटेल, बब्बूलाल यादव, अनिल यादव, रत्नेश श्रीवास्तव, मनोरमा मिश्रा, प्रिया सोनकर, लक्ष्मी पाण्डेय, अमरेश चन्द सोनकर आदि मौजूद रहे।

आठ

चुनार तहसील पर आयोजित धरना प्रदर्शन को सम्बोधित करते हुए पूर्व विधायक जगतम्बा सिंह पटेल ने कहा कि भाजपा सरकार के दिन लद गये है। जनता इनकी करतूतो को भलीभाँति समझ चुकी है। प्रदेश में पेट्रोल, डीजल, गैस के दाम बढ़कर आसमान छू रहे है। दाम घटने के वजाय बढ़ रहे हैं । धरना प्रदर्शन में जिला उपाध्यक्ष संजय यादव, विधानसभा अध्यक्ष रविप्रकाश त्रिपाठी, राम मनोहर यादव, पंकज उपाध्याय, शीतला यादव, सुरेश यादव, कुतुबुद्दीन अंसारी, सुरेन्द्र पटेल आदि शामिल थे।

आठ

लालगंज संवाददाता के अनुसार स्थानीय तहसील लालगंज पर आयोजित धरना प्रदर्शन के दौरान जिला उपाध्यक्ष श्याम नरायन यादव ने कहा कि भाजपा छल बल से ब्लाक प्रमुख व जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव जीतने में लगी रही। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में डबल इंजन की सरकार तानाशाही में लगी रही।

नारी सशक्तीकरण का संकल्प समय की मांग

दुबहर। जननायक चंद्रशेखर विश्वविद्यालय महिला अध्ययन केंद्र के तत्वावधान में नारी शक्ति विषयक संगोष्ठी का आयोजन पंचायत भवन नगवां पर किया गया। मुख्य अतिथि जननायक चन्द्रशेखर विश्वविद्यालय के डॉ. अपराजिता उपाध्याय ने कहा कि  नारी पुरुष से कहीं अधिक सशक्त है। उसके सशक्तीकरण से ही पुरुष का सशक्तीकरण संभव  है। क्योंकि स्त्री ही पुरुष की प्रेरणा है। अत: नारी सशक्तीकरण का संकल्प समय की मांग भी है। डॉ. वंदना ने कहा कि सम्पूर्ण विश्व में नारी को शक्ति के रूप में प्रतिष्ठा मिली है। प्रधान प्रतिनिधि भुवनेश्वर पासवान ने कहा कि देश की उन्नति में महिलाओं का विशेष योगदान है। आज समाज के हर क्षेत्र में महिलाएं पुरुषों की बराबरी कर रही हैं। हर कदम पर पुरुषों का साथ देते हुए देश के चहुंमुखी विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है। इस मौके पर रंजू यादव, तिका पांडेय, प्रीतम प्रजापति, मनीष, शिवम पांडेय, गोविंद यादव, दीपक पासवान, रंभा देवी, गीता देवी, प्रमिला, माया, दुर्गावती, निर्मला, अनीता आदि मौजूद रहे। अध्यक्षता ग्राम प्रधान सुमित्रा देवी तथा संचालन नंदिनी सिंह ने किया।

जननायक चंद्रशेखर विश्वविद्यालय, दुबहर के महिला अध्ययन केंद्र के तत्वावधान में नारी शक्ति विषयक संगोष्ठी का आयोजन

अस्पताल पर टीका मौजूद नहीं

बेल्थरारोड। वैक्सीन की अनुपलब्धता के चलते सीएचसी सीयर पर गुरुवार को  भी टीका नहीं लगा। वैक्सिनेशन कक्ष में ताला बंद रहा। अधीक्षक डा़ तनवीर आजम ने फोन पर बताया कि वैक्सीन स्टाक खत्म हो गया है। वहीं, लोगों का कहना था कि सरकार का महाभियान फेल हो गया है।

कांग्रेसियों ने चलाया हस्ताक्षर अभियान

सिकंदरपुर। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को नगर अध्यक्ष नियाज अहमद के नेतृत्व में कस्बा के नगरा मोड़ पर महंगाई को लेकर हस्ताक्षर अभियान चलाया। नियाज अहमद ने कहा कि आम जनता महंगाई से कराह रही है। सरसों तेल की कीमत 200 प्रति किग्रा हो गया है। अन्य खाने-पीने के सामानों की कीमतों में भी बेतहाशा वृद्घि हुई है। केन्द्र एवं प्रदेश सरकार इसे रोकने में विफल है। कहा कि आने वाला समय कांग्रेस का है। इस अवसर पर मदन यादव, देवेंद्र पाण्डेय, अजीत कुमार पाण्डेय आदि मौजूद थे ।

बसपा के सेक्टर कमेटी का गठन

बसपा बलिया नगर विस के सेक्टर आमडारी, देवरिया कलां में सेक्टर कमेटी का गठन किया गया। मुख्य अतिथि आजमगढ़ एवं वाराणसी मंडल के मुख्य जोन इंचार्ज डा. मदन राम का कार्यकर्ताओं ने जोरदार स्वागत किया। डा. मदन राम ने कहा कि आगामी 2022 के चुनाव में बसपा को पूर्ण बहुमत मिलेगा। कार्यकर्ता पार्टी की नीतियों को आमजन तक पहुंचायें। पार्टी से सर्वसमाज को जोड़ने का कार्य करें। उन्होंने साम, दाम, दंड, भेद से भी सावधान रहने की अपील की। इस अवसर पर महफूज आलम, अजय राम, सोहिल वर्मा, कृष्ण कुमार भारती, विनोद दूबे, जवाहर वर्मा, संजीव वर्मा, संतोष राम, रामवचन, धनजी भारती, बब्बन वर्मा, अजीत राम, रिजवान कुरैशी, नरेन्द्र पांडेय, प्रभुनाथ आदि मौजूद रहे।

भासुजपा ने फूंका ओमप्रकाश व ओवैसी का पुतला

बलिया में  भारतीय सुहेलदेव जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राजकुमार राजभर एवं जिलाध्यक्ष मिट्ठू राजभर के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने पूर्व मंत्री ओमप्रकाश राजभर तथा ओवैसी का टीडी कालेज चौराहा पर पुतला दहन किया। वक्ताओं ने कहा कि देश के दुश्मन सलार मसूर गाजी की मजार पर ओमप्रकाश राजभर एवं ओवैसी द्वारा चादर चढ़ाया गया।

पूर्व मंत्री ओमप्रकाश राजभर तथा ओवैसी का पुतला दहन

यह हिन्दू एवं राजभर समाज का अपमान है। इसे बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। इस अवसर पर सुखारी राजभर, लल्लन, जयप्रकाश, अनिल, मोहन, बब्बन, मनोज, तारकेश्वर चौरसिया, विरेन्द्र यादव, शिवकुमार राम आदि मौजूद रहे।

कांग्रेसियों ने बुलंद की आवाज

रेवती में स्थानीय पेट्रोल पम्प पर गुरुवार को डीजल-पेट्रोल में मूल्य वृद्घि के विरोध में चल रहे धरना प्रदर्शन के क्रम में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हस्ताक्षर अभियान के तहत जनसमर्थन हासिल किया। युवा कांग्रेस के प्रदेश सचिव रूपेश चौबे ने कहा कि केन्द्र सरकार दिन प्रतिदिन डीजल-पेट्रोल के मूल्य में वृद्घि कर रही है। इसके खिलाफ कांग्रेस कई महीनों से धरनारत है। इस अवसर पर अतिउल्लाह खान, ददन पाण्डेय, दीपक तिवारी, मदन यादव, वीरेन्द्र कुंवर, उमाशंकर उपाध्याय, सौरभ पाण्डेय, संगेश मिश्रा, अंकित पाण्डेय, भरत पाण्डेय, असरफ अली, विवेक चौबे, राजेश भारती, आदर्श चौबे, आनन्द मिश्रा आदि उपस्थित रहे।

बलिया जेल में कैदियों का हँगामा

बलिया जिला कारागार में कैदियों द्वारा किये गये हंगामा एवं उत्पात को लेकर गुरुवार को जेल डीआईजी गोरखपुर एके सिंह बलिया पहुंचे। सुबह से देर शाम तक वह पूरे घटनाक्रम की जानकारी मातहतों से लेते रहे। इस दौरान डीएम अदिति सिंह भाटी जिला कारागार के अंदर जांच पड़ताल में लगी रही। जहां एक तरफ अधिकारी जेल के अंदर जांच पड़ताल करते रहे, वहीं दूसरी तरफ बाहर पत्रकार काफी देर तक खड़े रहे।

गौरतलब है कि बुधवार की देर रात जिला कारागार में बंदियों ने जमकर हंगामा किया। यही नहीं, बंदियों ने पथराव भाटी किया। हालात पर काबू पाने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े। बंदियों के हंगामे के कुछ ही देर बाद पीएसी के साथ ही आधा दर्जन थानों की फोर्स जिला कारागार पहुंच गई। वहीं, डीएम एवं एसपी भी मौके पर पहुंचे। इसके बाद मामला शांत हुआ। जानकारी यह मिली कि नये जेल अधीक्षक की सख्ती की वजह से बंदियों ने हंगामा खड़ा किया। पथराव के दौरान कई जेल कर्मियों को चोटें आयी हैं। हालांकि, बंदियों के हंगामा के दौरान जेल प्रशासन हांफता रहा, लेकिन हंगामा बढ़ता देख प्रशासनिक अधिकारियों को इसकी सूचना देनी पड़ी। देर रात 11 बजे तक फोर्स तैनात रही। बता दें कि एक बंदी के कारागार का दीवार फांदकर भाग जाने के मामले में हुई जांच के दौरान जेल अधीक्षक प्रशांत मौर्य का तबादला हो गया था। जेल सूत्रों की मानें तो नये अधीक्षक उदय प्रताप मिश्र के यहां आने के बाद सख्त हो गये। एक सूत्र ने बताया कि सुविधा शुल्क के जरिये बंदी जेल के अंदर मोबाइल का इस्तेमाल धड़ल्ले से करते थे। शासन के निर्देश पर जेल में ही पीसीओ का इंतजाम कर दिया गया, ताकि बंदी समय-समय पर अपने घर बात कर सकें। जिलाधिकारी अदिति सिंह ने बताया कि सूचना मिली कि जेल में दो गुटों में झगड़ा हुआ है। इस पर मै एवं एसपी पहुंचे और उन्हें समझाया गया। इसके बाद सभी  अपने-अपने बैरक में चले गये। कोई भी व्यक्ति हताहत नहीं है। किसी को कोई चोट नहीं है। स्थिति पूरी तरह से सामान्य एवं नियंत्रण में है।

 

1 Comment
  1. Yogesh Nath Yadav says

    Achhi coverage.

Leave A Reply

Your email address will not be published.