Browsing Tag

अखिलेश यादव

जरुरी है बसपा और सपा का विकल्प ढूँढना!

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में भाजपा के पुनः सत्ता में आने से बहुजन समाज के लोगों को जितना आघात लगा है, उससे कई गुणा आघात उस बहुजन…
Read More...

‘समाजवादी ब्राह्मण मिशन’ सामाजिक न्याय की नाव में सबसे बड़ा छेद साबित हुआ है

2020 के चुनाव का क्रमिक विश्लेषण - भाग 3  इस बार विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी को 32% वोट और 111सीटें मिली हैं। अखिलेश यादव ने जोरदार…
Read More...

सपा अपना घोषणापत्र समानुपातिक भागीदारी पर केन्द्रित करे

यूपी विधानसभा चुनाव- 2022 में सत्ता की प्रबल दावेदार पार्टियों का घोषणापत्र कभी भी जारी हो सकता है.चूँकि बसपा घोषणापत्रों को चुनाव के लिए…
Read More...

अपर्णा यादव के भाजपा में शामिल होने के क्या मायने?

19 जनवरी बुधवार को मुलायम सिंह यादव परिवार की छोटी बहू अर्पणा यादव गाजे-बाजे के साथ भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुईं! अपर्णा यादव को लेकर…
Read More...

उत्तर प्रदेश का राजनीतिक एजेंडा सामाजिक न्याय और भागीदारी हो

उत्तर प्रदेश भाजपा में भगदड़ है और पिछड़े वर्ग के बहुत से प्रभावशाली नेता पार्टी छोड़कर समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए हैं। यह बेहद…
Read More...

सियासत और समाज  ( डायरी 6 अक्टूबर, 2021)  

सियासत यानी राजनीति की कोई एक परिभाषा नहीं हो सकती है। साथ ही यह कि सत्ता पाने का मतलब केवल प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री बनना नहीं होता…
Read More...

आरक्षण पर संघ का समर्थन उसका प्रायश्चित्त है मगर उसके जबड़े से अवसर निकालेगा कौन?

बीता 10 अगस्त, 2021 सामाजिक न्याय के लिहाज़ से संभवतः 2021 का सर्वाधिक महत्वपूर्ण दिन रहा।  इस दिन आरक्षण को लेकर कुछ ऐसी बातें हुई…
Read More...