Wednesday, July 24, 2024
होमTagsअखिलेश यादव

TAG

अखिलेश यादव

देवरिया में सपा अध्यक्ष ने पीड़ितों के घर जाकर व्यक्त की संवेदना

देवरिया (उप्र)(भाषा)।  समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने देवरिया जिले के रुद्रपुर क्षेत्र स्थित फतेहपुर में...

क्या उत्तर प्रदेश में सिर्फ जाति के सवाल पर होगा आगामी लोकसभा का चुनाव

लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर हर पार्टी अपने पक्ष में माहौल बनाने के लिए अभी से मुस्तैद दिख रही है। फ़िलहाल 2014 के लोकसभा...

क्या मायने हो सकते हैं मायावती की असंभव शर्त के

भतीजे आनंद का रुतबा उत्तर प्रदेश की राजनीति में तभी बढ़ सकता है जब विपक्ष के सबसे मजबूत नेता का तमगा अखिलेश यादव से छिन जाये और चंद्रशेखर रावण जैसे युवा दलित स्वर कमजोर हो जाएँ। कहावत है कि कबूतर की कलाबाजी उसी आसमान में होती है जिसमें बाज के झपट्टा मारने का डर नहीं होता है।

भैया जी के नाम पार्टी के एक मायूस समर्थक की पाती

राजनीति में दूर से सब कुछ बहुत साफ-शफ़्फ़ाफ दिखता भले है पर वास्तव में वैसा होता नहीं है। राजनीति की राह में तमाम दुरभिसंधियाँ...

विपक्ष के महाजुटान पर उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद ने साधा निशाना, कहा- तीसरी बार और मजबूत होगी एनडीए

वाराणसी। पटना में 23 जून को विपक्ष के महाजुटान के एक दिन पहले उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने विपक्ष की इस...

जरुरी है बसपा और सपा का विकल्प ढूँढना!

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में भाजपा के पुनः सत्ता में आने से बहुजन समाज के लोगों को जितना आघात लगा है, उससे कई...

‘समाजवादी ब्राह्मण मिशन’ सामाजिक न्याय की नाव में सबसे बड़ा छेद साबित हुआ है

2020 के चुनाव का क्रमिक विश्लेषण - भाग 3  इस बार विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी को 32% वोट और 111सीटें मिली हैं। अखिलेश यादव...

सपा अपना घोषणापत्र समानुपातिक भागीदारी पर केन्द्रित करे

यूपी विधानसभा चुनाव- 2022 में सत्ता की प्रबल दावेदार पार्टियों का घोषणापत्र कभी भी जारी हो सकता है.चूँकि बसपा घोषणापत्रों को चुनाव के लिए...

अपर्णा यादव के भाजपा में शामिल होने के क्या मायने?

19 जनवरी बुधवार को मुलायम सिंह यादव परिवार की छोटी बहू अर्पणा यादव गाजे-बाजे के साथ भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुईं! अपर्णा यादव...

उत्तर प्रदेश का राजनीतिक एजेंडा सामाजिक न्याय और भागीदारी हो

  उत्तर प्रदेश भाजपा में भगदड़ है और पिछड़े वर्ग के बहुत से प्रभावशाली नेता पार्टी छोड़कर समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए हैं। यह...

सियासत और समाज  ( डायरी 6 अक्टूबर, 2021)  

सियासत यानी राजनीति की कोई एक परिभाषा नहीं हो सकती है। साथ ही यह कि सत्ता पाने का मतलब केवल प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री बनना...

आरक्षण पर संघ का समर्थन उसका प्रायश्चित्त है मगर उसके जबड़े से अवसर निकालेगा कौन?

  बीता 10 अगस्त, 2021 सामाजिक न्याय के लिहाज़ से संभवतः 2021 का सर्वाधिक महत्वपूर्ण दिन रहा।  इस दिन आरक्षण को लेकर कुछ ऐसी बातें...

ताज़ा ख़बरें