Browsing Tag

#मायावती

जरुरी है बसपा और सपा का विकल्प ढूँढना!

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में भाजपा के पुनः सत्ता में आने से बहुजन समाज के लोगों को जितना आघात लगा है, उससे कई गुणा आघात उस बहुजन…
Read More...

मान्यवर कांशीराम की बसपा के पुनरुद्धार के तीन उपाय !

आज बसपा के संस्थापक अध्यक्ष मान्यवर कांशीराम की 88वीं जयंती है, किन्तु उनके अनुयायी आज बहुत ही उदास मन से इसका जश्न मनाएंगे। कारण हर कोई…
Read More...

आरएसएस का खिलौना बन रहे नरेंद्र मोदी, नीतीश और मायावती जैसे शूद्र (डायरी  21 फरवरी, 2022) 

सत्ता महत्वपूर्ण है। इतनी महत्वपूर्ण कि सत्ता जिसके पास जबतक रहती है, उसे इस बात का अहसास होता है कि वह सर्वशक्तिमान है और वह जो चाहे सो…
Read More...

भारतीय राजनीति में बसपा की उपस्थिति की मायने

उत्तर प्रदेश में 10 मार्च को जो भी चुनाव परिणाम हों, भारतीय राजनीति में दो चीजें हमेशा अत्यंत महत्वपूर्ण रहेंगी क्योंकि वे कभी भी फीनिक्स…
Read More...

उत्तर प्रदेश का राजनीतिक एजेंडा सामाजिक न्याय और भागीदारी हो

उत्तर प्रदेश भाजपा में भगदड़ है और पिछड़े वर्ग के बहुत से प्रभावशाली नेता पार्टी छोड़कर समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए हैं। यह बेहद…
Read More...

सियासत और समाज  ( डायरी 6 अक्टूबर, 2021)  

सियासत यानी राजनीति की कोई एक परिभाषा नहीं हो सकती है। साथ ही यह कि सत्ता पाने का मतलब केवल प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री बनना नहीं होता…
Read More...

नायकों के लिए मानदंड डायरी (18 सितंबर, 2021)

पटना स्थित घर के बाहर बथानी का छप्पर गिर जाने और उसके नीचे मेरी मोटरसाइकिल के दब जाने की सूचना मिली। यह बथानी 1980 के दशक में हुए निर्माण की…
Read More...