ठेका बिजलीकर्मी मज़दूर दिनेश पटेल की मौत बिजली विभाग की लापरवाही का परिणाम

राजकुमार गुप्ता

0 145
एसडीओ, एक्सईन, जेई और ठेकेदार पर दर्ज हो हत्या का मुकदमा
पीड़ित परिवार को मिले बीस लाख मुआवजा
वाराणसी, 12 दिसंबर, 2021, ठेका बिजलीकर्मी मज़दूर दिनेश पटेल की सारनाथ क्षेत्र के अकथा स्थित श्रीनगर कालोनी में ट्रांसफ़र स्थानांतरित करते समय झुलसने से हुई मृत्यु ठेकेदार और बिजली विभाग की लापरवाही का परिणाम है और इसके लिए अधिशासी अभियंता, एसडीओ, अवर अभियंता जेई और ठेकेदार के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही करनी चाहिए साथ ही पीड़ित परिवार को को बीस लाख रुपए का तत्काल मुआवजा जिला प्रशासन को देना चाहिए. यह मांग दलित फ़ाउंडेशन से से जुड़े सामाजिक कार्यकर्ता राजकुमार गुप्ता ने मुख्यमंत्री और राज्यपाल लगायत बिजली विभाग के महाप्रबंधक और ज़िलाधिकारी, पुलिस आयुक्त वाराणसी को ईमेल से दिए पत्रक में उठाई. पत्रक देने के बाद जारी अपने प्रेस बयान में कहा कि राजातालाब क्षेत्र के बीरभानपुर निवासी दिनेश पटेल लगातार बिजली विभाग के अन्तर्गत ठेकेदार द्वारा कार्यरत था और इसी दौरान वह शुक्रवार दोपहर बाद सारनाथ क्षेत्र के अकथा स्थित श्रीनगर कालोनी में ट्रांसफ़र स्थानांतरित करते समय झुलसने से हुई मृत्यु कार्यरत स्थान पर बिना सुरक्षा उपकरण कार्य कराया जा रहा था. उनकी मृत्यु साफ तौर पर आपराधिक लापरवाही है और इसके लिए ठेकेदार और बिजली विभाग के अधिकारियों को दंडित किया जाना चाहिए.

 मृतक के तीन वर्ष की पुत्री तथा बीते बृहस्पतिवार को पत्नी रेखा पटेल ने हास्पिटल में एक पुत्र को जन्म दिया है इसलिए यह मुआवजा देना उनके परिवार के जीवन की सुरक्षा और न्याय के हित के लिए जरूरी है.

उन्होंने कहा कि यदि जिला प्रशासन इन मांगों को पूरा नहीं करता है तो इसको लेकर एक बड़ा आंदोलन चलाया जाएगा और जब तक मांगे नहीं पूरी होंगी तब तक यह संघर्ष जारी रहेगा।

राजकुमार गुप्ता सामाजिक कार्यकर्ता हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.