Wednesday, May 22, 2024
होमराष्ट्रीयउप्र माध्यमिक शिक्षा परिषद की 10वीं और 12वीं कक्षाओं के परीक्षा परिणाम...

ताज़ा ख़बरें

संबंधित खबरें

उप्र माध्यमिक शिक्षा परिषद की 10वीं और 12वीं कक्षाओं के परीक्षा परिणाम घोषित, बेटियों ने फिर लहराया परचम

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा आयोजित 10वीं और 12वीं की वार्षिक परीक्षा में बेटियों ने दिखा दिया कि वे किसी से कम नहीं, जरूरत उन्हें मौका देने की है।

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद ने शनिवार को 10वीं और 12वीं कक्षाओं के परीक्षा परिणाम घोषित कर दिए। राज्य बोर्ड की 10वीं कक्षा की परीक्षा में शीर्ष तीन स्थानों पर छात्राओं ने अपना परचम लहराया है।

शिक्षा निदेशक (माध्यमिक) डॉ महेंद्र देव ने बताया कि 10वीं की परीक्षा में सीतापुर जनपद की प्राची निगम ने 98.50 प्रतिशत अंक के साथ प्रदेश में प्रथम स्थान प्राप्त किया, जबकि फतेहपुर जनपद की दीपिका सोनकर ने 98.33 प्रतिशत अंक के साथ दूसरा स्थान हासिल किया। वहीं, सीतापुर की नव्या सिंह एवं स्वाति सिंह 98 प्रतिशत अंक के साथ तीसरे स्थान पर रहीं।

शिक्षा निदेशक ने बताया कि इंटरमीडिएट (12वीं) की परीक्षा में सीतापुर जनपद के ही शुभम वर्मा ने 97.80 प्रतिशत अंक के साथ प्रदेश में प्रथम स्थान प्राप्त किया, जबकि बागपत जनपद के विशु चौधरी ने 97.60 प्रतिशत अंक के साथ दूसरा स्थान हासिल किया।

शिक्षा निदेशक (माध्यमिक) डॉ महेंद्र देव  ने बताया कि 12वीं की परीक्षा में, सीतापुर की शीतल वर्मा ने 97.40 प्रतिशत अंक के साथ तीसरा स्थान हासिल किया।

डॉ महेंद्र देव ने बताया की 10वीं कक्षा के 89.55 प्रतिशत विद्यार्थी उत्तीर्ण हुए, जबकि इंटरमीडिएट के 82.60 प्रतिशत विद्यार्थी उत्तीर्ण हुए।

10 वीं में  86.05 प्रतिशत लड़कों के मुकाबले 93.40 प्रतिशत लड़कियां उत्तीर्ण हुईं 

उन्होंने बताया कि परिषद ने 2024 की बोर्ड परीक्षाओं के साथ नये कीर्तिमान स्थापित किए हैं। पहली बार रिकॉर्ड 12 कार्य दिवसों में परीक्षा संपन्न कराई गई और इतने ही दिनों में उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन कार्य पूरा किया गया।

डॉ महेंद्र देव  बताया कि 10वीं की परीक्षा में 27,49,364 विद्यार्थी शामिल हुए, जिनमें 14,39,243 लड़के और 13,10,121 लड़कियां हैं तथा 86.05 प्रतिशत लड़के और 93.40 प्रतिशत लड़कियां उत्तीर्ण हुईं।

उन्होंने बताया कि इसी तरह, इंटरमीडिएट की परीक्षा में 24,52,830 विद्यार्थी शामिल हुए, जिनमें 13,41,356 लड़के और 11,11,474 लड़कियां हैं जिसमें से 77.78 प्रतिशत लड़के और 88.42 प्रतिशत लड़कियां उत्तीर्ण हुईं।

डॉ महेंद्र देव  ने बताया कि ये परीक्षाएं 22 फरवरी से नौ मार्च, 2024 के बीच कुल 8,265 परीक्षा केंद्रों पर कराई गई थीं।

गाँव के लोग
गाँव के लोग
पत्रकारिता में जनसरोकारों और सामाजिक न्याय के विज़न के साथ काम कर रही वेबसाइट। इसकी ग्राउंड रिपोर्टिंग और कहानियाँ देश की सच्ची तस्वीर दिखाती हैं। प्रतिदिन पढ़ें देश की हलचलों के बारे में । वेबसाइट की यथासंभव मदद करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय खबरें