Sunday, June 23, 2024
होमसंस्कृतिशांति सद्भावना यात्रा का गांवों में हुआ अभिनंदन

ताज़ा ख़बरें

संबंधित खबरें

शांति सद्भावना यात्रा का गांवों में हुआ अभिनंदन

शांति सद्भावना यात्रा दूसरे दिन मिर्जामुराद पहुँची समाज में भ्रम, वैमनस्य और अशांति फ़ैलाने वालों से सतर्क रहना जरूरी है :पूर्व मंत्री सुरेंद्र पटेल वाराणसी। साझा संस्कृति मंच एवं जन आंदोलनों के राष्ट्रीय समन्वय के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित शांति, सद्भावना, प्रेम और भाईचारे के संदेश के साथ 9 दिवसीय शांति सद्भावना यात्रा का दूसरे […]

शांति सद्भावना यात्रा दूसरे दिन मिर्जामुराद पहुँची

समाज में भ्रम, वैमनस्य और अशांति फ़ैलाने वालों से सतर्क रहना जरूरी है :पूर्व मंत्री सुरेंद्र पटेल

वाराणसी। साझा संस्कृति मंच एवं जन आंदोलनों के राष्ट्रीय समन्वय के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित शांति, सद्भावना, प्रेम और भाईचारे के संदेश के साथ 9 दिवसीय शांति सद्भावना यात्रा का दूसरे दिन आराजीलाइन विकास खंड में जोरदार स्वागत एवं अभिनंदन किया गया। हरपुर, हरसोस, प्रतापपुर, रखौना, मिर्जामुराद आदि गाँवो में आयोजित नुक्कड़ सभाओं और बैठको में पदयात्रियों ने आयोजन के उद्देश्य को बताते हुए कहा कि आज समाज को नफरत नहीं बल्कि प्रेम और आपसी मेलजोल की जरूरत है। पूर्व संध्या पर रात्रि पड़ाव के दौरान घाटमपुर में गांव में कैंडल मार्च का आयोजन किया गया।

यात्रा में शामिल पूर्व प्रदेश मंत्री सुरेंद्र पटेल ने कहा कि दरअसल, समाज में अशांति और नफरत फैलाने वाले लोकप्रिय नहीं हैं। सत्य और धर्म उनके साथ नहीं है, लेकिन वो संगठित और सक्रिय हैं, हमारी निष्क्रियता का लाभ उठाते हैं, हमे इंसान के बजाय भीड़ बनाने में और वोट बैंक बनाने में उनका फायदा है। एक-दूसरे के बारे में वैमनस्य, भ्रम और भय फैलाया जा रहा है। बहुत चालाकी से अधकचरे झूठ को सच बनाया जा रहा है। नयी टेक्नोलॉजी और सोशल मीडिया का गन्दा इस्तेमाल हो रहा है। ऐसे में हमे सचेत होकर रहना है सत्य को जानना है और समाज मे मिलजुल कर रहने की परंपरा का निर्वहन करना है।

शांति सद्भावना यात्रा को संबोधित करते सामाजिक कार्यकर्ता नन्दलाल मास्टर

जन आंदोलनों के राष्ट्रीय समन्वय के जिला संयोजक सतीश सिंह ने कहा कि तेजी से बढ़ रही असामाजिकता और अशांति के बुरे परिणामों को समझने की जरूरत है। अब हमारा गांव, गांव के लोगों का नही रहा, पहले छोटी बड़ी समस्याओं का निस्तारण आपस में मिल बैठकर कर लिया जाता था। लेकिन अब हम हर छोटे बड़े विवाद में खर्चीले कोर्ट कचहरी और थाना पुलिस की मार जलालत झेलने को अभिशप्त हैं, हमें दवाई, पढाई, रोजगार की जरूरत है तो उसी पर बात करनी होगी आपसी वैमनस्य की नही।

यात्रा के संयोजक नंदलाल मास्टर ने बताया कि जिले के सभी 8 विकासखण्डों में कुल 125 किलोमीटर की पदयात्रा के दौरान हम प्रतिदिन औसतन 2 से 3 हजार लोगों से संवाद कर रहे है। पर्चा वितरण, नुक्कड़ सभा, जनवादी गीतों, और पोस्टर के माध्यम से लोगों को आपसी नफरत और वैमनस्य त्याग कर प्रेम परस्पर और सौहार्द्र से रहने की अपील कर रहे हैं। इस दौरान सांस्कृतिक टीम प्रेरणा कला मंच के कलाकारों द्वारा प्रस्तुत जनवादी गीत बहुत ही प्रभावशाली साबित हो रहे हैं। उन्होंने बताया कि शनिवार को यात्रा का पड़ाव मिर्जामुराद में होगा अगले दिन रविवार को यात्रा सेवापुरी विकासखंड के गांवों  में भ्रमण करेगी।

शांति सद्भावना यात्रा में शामिल लोग

शांति सद्भावना यात्रा का आज ग्राम पंचायत रखौना में प्रधान संघ आराजी लाईन वाराणसी के नेतृत्व में स्वागत किया गया। जिसमें मुख्य रूप से मुकेश पटेल ग्राम प्रधान नागेपुर प्रधान संघ अध्यक्ष, गौरी शंकर पटेल, ग्राम प्रधान रखौना संजय यादव, ग्राम प्रधान बूड़ापुर महामंत्री प्रकाश यादव, प्रधान कृष्णदत्तपुर संतोष यादव, प्रधान दीपापुर मनोज कुमार वर्मा, प्रधान मोहनसराय तेजनाथ पटेल, पूर्व प्रधान कल्लीपुर, चंद्रजीत यादव ,प्रधान धानापुर उमेश पटेल, प्रधान बेनीपुर राजकुमार गुप्ता, फूलचंद, राजभर गायक, महेंद्र राठौर, मुबारक अली के अलावा सैकड़ो लोग उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें…

खिलौना रंगने वाली औरत की साठ रुपये रोज पर कैसे गुजर होती होगी?

यात्रा में लगभग 3 दर्जन पदयात्री शामिल रहे जिसमें रंजू, प्रियंका सिंह, पूनम, सोनी, अनिता, सतीश सिंह, माया, मनोज यादव, सरोज, रामबचन, राजेश, धनंजय, मैत्री, मंजू, आशा राय, सुरेंद्र सिंह ,सुरेन्द्र पटेल,  मुकेश ,शिव कुमार, संजय यादव , श्री प्रकाश  मुंगवार, सन्तोष, मनोज, चंद्रजीत, ओमप्रकाश पटेल, रामप्रकाश, किसान नेता योगिराज पटेल, मुकेश झंझरवाला, सामाजिक कार्यकर्ता राजकुमार गुप्ता, चिंता, सीमा, रेखा इत्यादि लोग शामिल रहे।

गाँव के लोग
गाँव के लोग
पत्रकारिता में जनसरोकारों और सामाजिक न्याय के विज़न के साथ काम कर रही वेबसाइट। इसकी ग्राउंड रिपोर्टिंग और कहानियाँ देश की सच्ची तस्वीर दिखाती हैं। प्रतिदिन पढ़ें देश की हलचलों के बारे में । वेबसाइट की यथासंभव मदद करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय खबरें