Browsing Tag

कांशीराम

बाकी है अभी सामाजिक न्याय की निर्दिष्ट परिभाषा!

14 अप्रैल से अम्बेडकर जयंती माह शुरू होता है, जो सामान्यतया मई के दूसरे सप्ताह तक जारी रहता है। इस दरम्यान पूरे देश में हर्षोल्लास के साथ…
Read More...

क्या 2022 में सामाजिक न्याय की राजनीति से गायब चेहरों को जनता ने सबक दिया है?

गत 10 मार्च को 4 राज्यों, विशेषकर देश की दिशा तय करने वाले उत्तर प्रदेश में जिस तरह भाजपा ने पुनः सत्ता में आकर इतिहास रचा है और जिस तरह…
Read More...

मान्यवर कांशीराम की बसपा के पुनरुद्धार के तीन उपाय !

आज बसपा के संस्थापक अध्यक्ष मान्यवर कांशीराम की 88वीं जयंती है, किन्तु उनके अनुयायी आज बहुत ही उदास मन से इसका जश्न मनाएंगे। कारण हर कोई…
Read More...

उत्तर भारत में पेरियार के बदले क्यों पूजे जाते हैं विश्वकर्मा? डायरी (17 सितंबर, 2021)  

बंगाल और बिहार में अनेकानेक सांस्कृतिक समानताएं हैं। फिर चाहे वह खाने-पीने का मामला हो या तीज-त्यौहारों का। भाषा में भी बहुत अधिक अंतर नहीं…
Read More...

 दलित लेखकों-विचारकों की वैचारिक दरिद्रता डायरी (26 अगस्त, 2021) 

बचपन वाकई अलहदा था। अहसास ही नहीं होता था कि इंसान-इंसान के बीच कोई भेद होता है। भेद के नाम पर केवल इतना ही कि मेरी कक्षा में लड़के और…
Read More...