Wednesday, May 22, 2024
होमराजनीतिगुतारेस ने उत्तरी गाजा खाली करने के आदेश को बताया अत्यधिक खतरनाक

ताज़ा ख़बरें

संबंधित खबरें

गुतारेस ने उत्तरी गाजा खाली करने के आदेश को बताया अत्यधिक खतरनाक

संयुक्त राष्ट्र (भाषा)।  संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने कहा कि इजराइल का उत्तरी गाजा में करीब 11 लाख लोगों को 24 घंटे के भीतर वहां से चले जाने की चेतावनी देना ‘अत्यधिक खतरनाक’ और ‘कतई संभव नहीं’ है। उन्होंने कहा कि युद्ध के भी कुछ नियम होते हैं। गाजा में संयुक्त राष्ट्र के अधिकारियों […]

संयुक्त राष्ट्र (भाषा)।  संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने कहा कि इजराइल का उत्तरी गाजा में करीब 11 लाख लोगों को 24 घंटे के भीतर वहां से चले जाने की चेतावनी देना ‘अत्यधिक खतरनाक’ और ‘कतई संभव नहीं’ है। उन्होंने कहा कि युद्ध के भी कुछ नियम होते हैं।

गाजा में संयुक्त राष्ट्र के अधिकारियों को बृहस्पतिवार को इजराइली सेना में उनके संपर्क अधिकारियों ने सूचना दी कि उत्तरी गाजा की तकरीबन 11 लाख आबादी को अगले 24 घंटे के भीतर दक्षिणी हिस्से में चले जाना चाहिए।

यह आदेश संयुक्त राष्ट्र के सभी कर्मियों और उन लोगों पर भी लागू होता है, जिन्होंने स्कूल, स्वास्थ्य केंद्र और क्लीनिक समेत संयुक्त राष्ट्र केंद्रों में शरण ली हुई है। गुतारेस ने शुक्रवार को यहां पत्रकारों से कहा, ‘घनी आबादी वाले युद्ध क्षेत्र में 10 लाख से अधिक लोगों का ऐसे स्थान पर जाना जहां न भोजन है, न पानी और न ही रहने की जगह और जहां पूर्ण नाकाबंदी है, अत्यधिक खतरनाक और कुछ मामलों में तो बिल्कुल भी संभव नहीं है।’

संयुक्त राष्ट्र महासचिव ने पश्चिम एशिया की स्थिति पर सुरक्षा परिषद की बैठक में हिस्सा लेने के लिए जाने से पहले ये टिप्पणियां कीं। उन्होंने कहा कि हवाई हमलों के कुछ दिन बाद इजराइली रक्षा बलों ने गाजा और उसके आसपास के इलाकों में फलस्तीनियों को दक्षिणी क्षेत्र में जाने का आदेश दिया है।

गहन चिंता व्यक्त करते हुए संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने कहा कि ‘दक्षिणी गाजा में अस्पताल पहले ही भरे हुए हैं और वे उत्तरी गाजा के हजारों नये मरीजों का इलाज नहीं कर पाएंगे।’ उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य प्रणाली ‘चरमराने के कगार’ पर है और ‘मुर्दाघर भी भरे पड़े हैं।’ गुतारेस ने बताया कि 11 स्वास्थ्य कर्मियों की ड्यूटी पर रहते हुए हत्या कर दी गई है और पिछले कुछ दिन में स्वास्थ्य केंद्रों पर 34 हमले किए गए हैं।

गाजा की स्थिति को खतरनाक बताते हुए गुतारेस ने कहा कि पूरे क्षेत्र में जल संकट है और बिजली गुल है। उन्होंने कहा, ‘युद्ध के भी अपने नियम होते हैं। संयुक्त राष्ट्र को गाजा में हर किसी को ईंधन, भोजन और पानी मुहैया कराने के लिए मानवीय सहायता पहुंचने की तत्काल आवश्यकता है।’

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने कहा कि गत शनिवार को इजराइल पर हमास के ‘वीभत्स आतंकी हमलों’  में 1,200 से अधिक लोगों की मौत हो गई और हजारों अन्य घायल हो गए। इसके बाद गाजा में भीषण बमबारी में 1,800 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है और हजारों अन्य घायल हुए हैं।

संयुक्त राष्ट्र के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने उत्तरी गाजा को खाली करने के इजराइल के आदेश पर शुक्रवार को पत्रकारों से कहा, ‘संयुक्त राष्ट्र का मानना है कि यह असंभव है कि ऐसा अभियान बिना मानवीय त्रासदी के पूरा हो जाए।’

गाँव के लोग
गाँव के लोग
पत्रकारिता में जनसरोकारों और सामाजिक न्याय के विज़न के साथ काम कर रही वेबसाइट। इसकी ग्राउंड रिपोर्टिंग और कहानियाँ देश की सच्ची तस्वीर दिखाती हैं। प्रतिदिन पढ़ें देश की हलचलों के बारे में । वेबसाइट की यथासंभव मदद करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय खबरें