Tuesday, July 23, 2024
होमराष्ट्रीयमिजोरम में भाजपा एजेंट के रूप में काम कर रहे हैं एमएनएफ...

ताज़ा ख़बरें

संबंधित खबरें

मिजोरम में भाजपा एजेंट के रूप में काम कर रहे हैं एमएनएफ और जेडपीएम – खरगे

नई दिल्ली (भाषा)। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने गुरुवार को आरोप लगाया कि मिजोरम के दो प्रमुख राजनीतिक दल मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) और जोराम पीपुल्स मूवमेंट (जेडपीएम) भारतीय जनता पार्टी के अनौपचारिक एजेंट के रूप में काम कर रहे हैं। मिजोरम की सभी 40 विधानसभा सीटों के लिए चुनाव के तहत सात नवंबर को […]

नई दिल्ली (भाषा)। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने गुरुवार को आरोप लगाया कि मिजोरम के दो प्रमुख राजनीतिक दल मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) और जोराम पीपुल्स मूवमेंट (जेडपीएम) भारतीय जनता पार्टी के अनौपचारिक एजेंट के रूप में काम कर रहे हैं।

मिजोरम की सभी 40 विधानसभा सीटों के लिए चुनाव के तहत सात नवंबर को मतदान होगा और तीन दिसंबर को मतगणना होगी।

खरगे ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर पोस्ट किया, ‘1986 में एक शांति समझौते के माध्यम से राजीव गांधी मिजोरम में शांति लेकर आए और 1987 में राज्य का दर्जा सुनिश्चित किया। कांग्रेस पार्टी सदैव देश की प्रगति के लिए प्रतिबद्ध रही है।’

उन्होंने दावा किया कि बीजेपी -आरएसएस विविधता के खिलाफ हैं।  वे अपने मित्रों के भले के लिए आदिवासियों की संपत्ति, कीमती जमीन और जंगल छीनना चाहते हैं। खरगे ने आरोप लगाया कि एमएनएफ और जेडपीएम भाजपा के अनौपचारिक एजेंट के रूप में काम कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, ‘मिजोरम के लोग शांति, समृद्धि और प्रगति के पात्र हैं। हम जो वादा करते हैं, उसे पूरा करते हैं। मिजोरम राज्य के लिए हमारी गारंटी कल्याण, समावेशी प्रगति और आर्थिक सुरक्षा की शुरूआत करेगी।’

एप्पल को भेजा गया नोटिस, सीईआरटी-इन ने शुरू की जांच: आईटी सचिव

नई दिल्ली(भाषा)। सूचना प्रौद्योगिकी सचिव एस कृष्णन ने गुरुवार को कहा कि विपक्षी दलों के सांसदों ने एप्पल की ओर से उन्हें भेजे गए चेतावनी के संदेश का जो मुद्दा उठाया था उसकी जांच सीईआरटी-इन ने शुरू कर दी है। उन्होंने बताया कि इस सिलसिले में कंपनी को नोटिस भी भेजा गया है। आईटी सचिव ने उम्मीद जताई की एप्पल इस मुद्दे पर सीईआरटी-इन की जांच में सहयोग करेगा।

कृष्णन ने एक कार्यक्रम से इतर संवाददाताओं से कहा, ‘सीईआरटी-इन ने अपनी जांच शुरू कर दी है…वे (एप्पल) इस जांच में सहयोग करेंगे।’ भारतीय कंप्यूटर आपात प्रतिक्रिया टीम या सीईआरटी-इन कंप्यूटर सुरक्षा से संबंधित घटनाओं पर प्रतिक्रिया देने के लिए राष्ट्रीय नोडल एजेंसी है। यह पूछे जाने पर कि क्या एप्पल को नोटिस भेजा गया है? उन्होंने कहा, ‘हां’।

विपक्ष के कई नेताओं ने मंगलवार को दावा किया कि उन्हें उनके आईफोन में ‘सरकार प्रायोजित सेंधमारी के प्रयास’ के बारे में एप्पल से चेतावनी संदेश मिला है तथा इस कथित हैकिंग के प्रयास के लिए सरकार जिम्मेदार है।

केंद्रीय सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव ने विपक्ष के आरोपों को खारिज किया है और कहा कि सरकार इसकी गहन जांच कराएगी।

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे, पार्टी नेता केसी वेणुगोपाल, शशि थरूर, पवन खेड़ा, सुप्रिया श्रीनेत एवं टी एस सिंहदेव, शिवसेना (यूबीटी) की सांसद प्रियंका चतुर्वेदी, तृणमूल कांग्रेस की महुआ मोइत्रा, आम आदमी पार्टी (आप) के राघव चड्ढा, माकपा महासचिव सीताराम येचुरी, समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को इसी तरह का संदेश मिला है।

गाँव के लोग
गाँव के लोग
पत्रकारिता में जनसरोकारों और सामाजिक न्याय के विज़न के साथ काम कर रही वेबसाइट। इसकी ग्राउंड रिपोर्टिंग और कहानियाँ देश की सच्ची तस्वीर दिखाती हैं। प्रतिदिन पढ़ें देश की हलचलों के बारे में । वेबसाइट की यथासंभव मदद करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय खबरें