Browsing Tag

BJP

बिहार – अश्क आंखों में कब नहीं आता (डायरी, 10 अगस्त, 2022)

कल फिर बिहार की सियासत पर पूरे देश की नजर रही। इसकी वजह भी थी। अभी एकदम हाल ही में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय…
Read More...

आखिर मोदी को पसमांदा मुसलमानों की क्या जरूरत पड़ गई है?

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कई अलग-अलग तरीकों से अपनी चुनावी ताकत बढ़ाती रही है। पार्टी को मिलने वाले वोटों का प्रतिशत बढ़ता जा रहा है। परंतु…
Read More...

सवर्ण बनाम दलित-बहुजन (डायरी 2 अगस्त, 2022)  

बदलाव संसार का नियम है और यह बदलाव हर क्षेत्र में होता है फिर चाहे वह सामाजिक क्षेत्र में बदलाव हो, आर्थिक क्षेत्र में हो, सांस्कृतिक…
Read More...

खबरें केवल खबरें नहीं होतीं (डायरी, 1 अगस्त, 2022) 

खबरों की दुनिया अलग ही होती है। मतलब यह कि हर खबर के पीछे एक कहानी होती है। ऐसी कोई खबर नहीं होती है, जिसके पीछे कोई कहानी ना हो। फिर चाहे…
Read More...

भगवा आईटी सेल सिर्फ अहीरों पर ही क्यों पोस्ट लिखता है?

एक यादव आईएएस अधिकारी, जो इतिहासकार भी हैं, द्वारा लिखा गया इस प्रकार का 'कटु सत्य' सोशल मीडिया पर वायरल हुआ - मैं ब्राम्हणों का बहुत…
Read More...

क्या कांग्रेस भाजपा की विकल्प हो सकती है?

एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है जिसमें पुलिसवालों से घिरे हुए राहुल गाँधी ज़मीन पर बैठे हैं। राहुल एक राष्ट्रीय स्तर के नेता के साथ…
Read More...

क्या राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू भारत आदिवासियों के साथ होनेवाले अन्याय को ख़त्म करेंगीं

संविधान निर्माताओं समेत स्वाधीनता संग्राम से मंज-तपकर निकले सिद्धान्तनिष्ठ और खरे राजनेताओं की उस पुरानी पीढ़ी ने (जिसे यह पता था कि हमारा…
Read More...

पिंजरेवाली मुनिया (डायरी 22 जुलाई, 2022) 

पिछले दो दिनों से क्रिस्टोफर कॉडवेल को पढ़ रहा हूं। संभवत: यह उनकी पहली किताब है। इसका नाम है– 'स्टडीज इन अ डाइंग कल्चर।' कॉडवेल को मैं मूल…
Read More...

वर्ग तथा जातीय उत्पीड़न के बीच मजदूर वर्ग का पक्ष!

वर्ग के अंदर के अंतर्विरोध में जातीय उत्पीड़न उपेक्षा के रूप में आता है। वर्तमान में उत्तर प्रदेश के दलित मंत्री के इस्तीफा देना की घटना को…
Read More...

 मुंगेरी लाल कमीशन के हत्यारों को जानिए (डायरी 20 जुलाई, 2022) 

दुनिया में न कोई शब्द आसमानी है और ना ही कोई मुहावरा। सब मनुष्यों का ही किया धरा है। असल में यह बात मैं इसलिए भी कहता हूं क्योंकि एक तो मैं…
Read More...