Friday, June 14, 2024
होमराजनीतिराहुल गांधी ने कहा जनादेश स्वीकार, विचारधारा की लड़ाई जारी रहेगी

ताज़ा ख़बरें

संबंधित खबरें

राहुल गांधी ने कहा जनादेश स्वीकार, विचारधारा की लड़ाई जारी रहेगी

नयी दिल्ली(भाषा)। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने रविवार को कहा कि वह मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान का जनादेश विनम्रतापूर्वक स्वीकार करते हैं तथा विचारधारा की लड़ाई जारी रखेंगे। राहुल गांधी ने ‘एक्स’ पर पोस्ट किया, ‘मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान का जनादेश हम विनम्रतापूर्वक स्वीकार करते हैं, विचारधारा की लड़ाई जारी रहेगी। […]

नयी दिल्ली(भाषा)। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने रविवार को कहा कि वह मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान का जनादेश विनम्रतापूर्वक स्वीकार करते हैं तथा विचारधारा की लड़ाई जारी रखेंगे।

राहुल गांधी ने ‘एक्स’ पर पोस्ट किया, ‘मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान का जनादेश हम विनम्रतापूर्वक स्वीकार करते हैं, विचारधारा की लड़ाई जारी रहेगी। तेलंगाना के लोगों को मेरा बहुत धन्यवाद। ‘प्रजाला तेलंगाना’ बनाने का वादा हम ज़रूर पूरा करेंगे। सभी कार्यकर्ताओं को उनकी मेहनत और समर्थन के लिए दिल से शुक्रिया।’ कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा तेलंगाना में कांग्रेस की जीत के लिये वहां की जनता का आभार जताया और मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ तथा तेलंगाना में पार्टी की हार को लेकर कहा कि जनता का फैसला सिर माथे पर है।

प्रियंका गांधी ने कहा, ‘तेलंगाना की जनता ने इतिहास रचते हुए कांग्रेस पार्टी के पक्ष में जनादेश दिया है। यह ‘प्रजाला तेलंगाना’ की जीत है। यह प्रदेश की जनता और कांग्रेस पार्टी के एक-एक कार्यकर्ता की जीत है। तेलंगाना की जनता को तह-ए-दिल से धन्यवाद। कांग्रेस पार्टी तेलंगाना में शांति, समृद्धि और प्रगति के लिए संकल्पबद्ध है।’ उन्होंने कहा, ‘राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की जनता ने कांग्रेस पार्टी को विपक्ष की भूमिका सौंपी है। जनता का फैसला सिर माथे पर। जय हिंद!’’

कांग्रेस अपने दम पर जीतने में सक्षम नहीं, ‘इंडिया’ को मजबूत करना होगा: जदयू

दूसरी ओर जनता दल (यूनाइटेड) ने रविवार को हिंदी पट्टी के तीन राज्यों में कांग्रेस के खराब प्रदर्शन को लेकर उसे आड़े हाथ लेते हुए कहा कि मुख्य विपक्षी दल अपने दम पर जीतने में सक्षम नहीं है।

जदयू प्रवक्ता केसी त्यागी ने कहा कि मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान के विधानसभा चुनाव के परिणाम कांग्रेस की पराजय और भाजपा की विजय का संकेत देते हैं। उन्होंने कहा कि चुनावों में विपक्षी ‘इंडिया’ गठबंधन गायब था। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने इन राज्यों के चुनाव में ‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस’ (इंडिया) के अपने एक भी सहयोगी दल को न कभी आमंत्रित किया और ना ही उससे सलाह-मशविरा किया। त्यागी ने कहा कि समाजवाद की विचाराधारा वाले दलों से भी परामर्श नहीं किया गया जिनकी इन राज्यों में ऐतिहासिक रूप से मौजूदगी रही है।

वह चुनाव से पहले भोपाल में विपक्षी गठबंधन की एक प्रस्तावित रैली को निरस्त किये जाने के लिए एक तरह से कांग्रेस नेतृत्व पर प्रहार कर रहे थे।‘इंडिया’ गठबंधन की बैठक छह दिसंबर को बुलाई गई है। त्यागी ने कहा, ‘इस समय सभी के लिए बहुत जरूरी है कि ‘इंडिया’ गठजोड़ को मजबूत किया जाए। यदि कुछ महीने पहले गठबंधन की बैठक बुलाई गई होती तो कारगर होती।’

गाँव के लोग
गाँव के लोग
पत्रकारिता में जनसरोकारों और सामाजिक न्याय के विज़न के साथ काम कर रही वेबसाइट। इसकी ग्राउंड रिपोर्टिंग और कहानियाँ देश की सच्ची तस्वीर दिखाती हैं। प्रतिदिन पढ़ें देश की हलचलों के बारे में । वेबसाइट की यथासंभव मदद करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय खबरें