Browsing Tag

caa

बुल्लीबाई ऐप के बहाने महिलाओं पर कसता शिकंजा

13 जनवरी 2022 को इप्टा की महिला साथियों ने बुल्लीबाई ऐप के बहाने महिलाओं पर कसता शिकंजा विषय पर ज़ूम प्लेटफॉर्म पर चर्चा की। चर्चा की शुरुआत…
Read More...

जूम करके देखिए सियासती पैंतरेबाजी (डायरी 12 जनवरी, 2022)

सियासत वाकई कमाल की चीज है। यह बात मैं इसलिए कह रहा हूं क्योंकि इसके पैंतरे बड़े कमाल के होते हैं। और आप यदि संविधान में विश्वास रखते हैं तो…
Read More...

विधानसभा चुनाव 2022 : कैसे हो हेट पॉलिटिक्स की काट !

2022 के पूर्वार्द्ध में चुनाव आयोग के अनुसार निष्पक्ष, प्रलोभनमुक्त व कोविड के बचाव की फुलप्रूफ तैयारियों के साथ 5 राज्यों- पंजाब, गोवा,…
Read More...

सरकार जनता से डरी हुई है इसलिए आंदोलनों को बेरहमी से कुचल देना चाहती है

बनारस में जातिगत जनगणना और किसान आन्दोलन जैसे विभिन्न मुद्दों को लेकर जाने-माने अधिवक्ता और सामाजिक चिंतक प्रेम प्रकाश सिंह यादव बहुत दिनों…
Read More...

इस उपन्यास का कल्पनालोक समझने के लिए अपने दौर की समझ जरूरी है

लेख का दूसरा और अंतिम हिस्सा बहुत सारे आलोचक जार्ज ऑरवेल के उपन्यास 1984 में अतीत का वर्णन देखते हैं। बीसवीं शताब्दी के पहले पांच दशकों के…
Read More...

पितृसत्ता में औरत के लिए घर भी एक जेल है

मानवाधिकार के क्षेत्र में सीमा आज़ाद एक जाना-पहचाना नाम है। वह छात्र जीवन से ही राजनीतिक-सामाजिक मोर्चे पर सक्रिय रही हैं। ऑपरेशन ग्रीन हंट…
Read More...

किसान आंदोलन देश की टूटती हुई उम्मीदों को बचाने का आंदोलन है

उत्तर प्रदेश के किसानों के बीच कई दशकों तक काम करने के अनुभवों ने रामजनम की राजनीतिक समझ को अलग ढंग से विकसित किया है। बनारस सहित…
Read More...