Browsing Tag

karnatak

कटघरे में भारतीय अदालतें (डायरी 24 फरवरी, 2022) 

भारतीय अदालतों की साख रोज-ब-रोज गिरती जा रही है। यह चिंतनीय स्थिति है। खासतौर पर उनके लिए जो इस देश से प्यार करते हैं और अमन-चैन के आकांक्षी…
Read More...

हिंसा का उत्सव जायज नहीं (डायरी 12 अक्टूबर, 2021)

आडंबर और पाखंड से कोई धर्म नहीं बचा हुआ है। या कहिए कि हर धर्म में केवल और केवल आडंबर और पाखंड ही है। फिर चाहे वह कोई भी धर्म हो। अभी इसी…
Read More...

हम हिन्दू नहीं, आदिवासी हैं…डायरी (8 अगस्त, 2021)  

धरती और अंतरिक्ष में अंतर है। वैज्ञानिक स्तर पर तो अंतर यही है कि धरती पर गुरुत्वाकर्षण शक्ति का मान अलग होता है और अंतरिक्ष में कुछ और। एक…
Read More...