Sunday, July 21, 2024
होमTagsMayawati

TAG

Mayawati

अखिलेश ने मायावती के ‘गिरगिट’ वाले बयान पर किया पलटवार, बोले- इस बार ‘पीडीए’ हमारे साथ हैं

बाराबंकी/ लखनऊ (भाषा)। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती के ‘गिरगिट’...

लखनऊ: सभी सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी बसपा

लखनऊ (भाषा)।  बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने अपने 68वें जन्मदिन पर सोमवार को यहां कहा...

बिखरते बहुजन को तलाशना होगा अपना अंबेडकर

यह चौंकने की बात नहीं कि आज की बीएसपी का जमीनी कार्यकर्त्ता हवाई यानी गली-कूचे की नेतागीरी करने में ज्यादा रुचि लेने लगा है,...

बसपा प्रमुख मायावती ने मंडल आयोग रिपोर्ट स्थगित रखने के लिए कांग्रेस की आलोचना की

हैदराबाद (भाषा)।  बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की प्रमुख मायावती ने राहुल गांधी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता अब जाति...

मध्य प्रदेश चुनाव में अखिलेश ने भाजपा और कांग्रेस को बताया एक जैसा, मायावती के निशाने पर कांग्रेस

दमोह/कटनी (मप्र) (भाषा)।  समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को आरोप लगाया कि मध्य प्रदेश में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)...

बहुजन समाज के छुटभैये राजनीतिक दल ही बहुजनों के वोटों को बाँटने में लगे हैं

लोकसभा चुनाव 2024 के लिए बहुजन समाज से बसपा के अतिरिक्त अनेक राजनीतिक दल भी मैदान में उतरने का दंभ भर रहे हैं। विदित...

घोसी में विफल हुई भाजपा, सफल हुआ अखिलेश का पीडीए फार्मूला

इंडिया गठबंधन के प्रत्याशी सुधाकर सिंह ने घोसी के उपचुनाव में NDA प्रत्याशी दारा सिंह चौहान को 42 हजार से ज्यादा वोटों से पराजित...

क्या मायने हो सकते हैं मायावती की असंभव शर्त के

भतीजे आनंद का रुतबा उत्तर प्रदेश की राजनीति में तभी बढ़ सकता है जब विपक्ष के सबसे मजबूत नेता का तमगा अखिलेश यादव से छिन जाये और चंद्रशेखर रावण जैसे युवा दलित स्वर कमजोर हो जाएँ। कहावत है कि कबूतर की कलाबाजी उसी आसमान में होती है जिसमें बाज के झपट्टा मारने का डर नहीं होता है।

बहु-विकल्पीय राजनीति की प्रयोगशाला में बदलता उत्तर प्रदेश और फोटोनिक विखंडन का शिकार होता विपक्ष

वाराणसी। उत्तर प्रदेश निकाय चुनाव का परिणाम भाजपा को सबसे आगे रखने वाला परिणाम बनकर भले ही आया हो पर यह चुनाव उत्तर प्रदेश...

गाजियाबाद का शराब किंग- बाहुबली डीपी यादव जिसे यूपी की कोई भी सत्ता झुका नहीं सकी

उत्तर प्रदेश के बाहुबली - 8 दूध के कारोबार से दुनियादारी शुरू की पर पहचान बनी दारू। जब दारू का नशा सिर चढ़कर बोलने लगा...

जौनपुर के रक्तबीज- पायजामे की डोरी बांधना बाद में सीखे, हिस्ट्रीशीटर पहले ही बन गए धनंजय सिंह

उत्तर प्रदेश के बाहुबली -6 इनकी मनमानी को ना मानना इनके वसूल के खिलाफ था। मनमानी भी ऐसी कि एकदम गर्दा उड़ा दिए थे। तमंचा...

निरंकुश सरकार से डाइवर्सिटी एजेंडा लागू करवाना बहुत बड़ी राजनीतिक जीत होगी

इच्छा शक्ति के अभाव में बहुजन नेतृत्व इसके सदव्यवहार से मीलों दूर रहे। क्रांति का अध्ययन करने वाले तमाम समाज विज्ञानियों के मुताबिक़ जब वंचित वर्गों में सापेक्षिक वंचना का भाव पनपने लगता है, तब उन में शक्ति संपन्न वर्ग के खिलाफ आक्रोश की चिंगारी फूट पड़ती है और वे शासकों को सत्ता से दूर धकेल देते हैं।

क्या अनुसूचित जाति का हिस्सा बन पाएँगी 18 ओबीसी की उपजातियाँ

भारत सरकार के न्याय मंत्रालय के नोटिफिकेशन के आधार पर राष्ट्रपति ने 10 अगस्त, 1950 को संविधान (अनुसूचित जातियाँ) आदेश की प्रथम अधिसूचना जारी...

आखिर क्यों नहीं किया जा रहा है अठारह अति पिछड़ी जातियों को अनुसूचित जाति में शामिल

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में 17 ओबीसी जातियों को अनुसूचित जाति की श्रेणी में शामिल करने के अरमानों पर हाईकोर्ट ने पानी फेर दिया है।...

क्या 2022 में सामाजिक न्याय की राजनीति से गायब चेहरों को जनता ने सबक दिया है?

गत 10 मार्च को 4 राज्यों, विशेषकर देश की दिशा तय करने वाले उत्तर प्रदेश में जिस तरह भाजपा ने पुनः सत्ता में आकर...

जरुरी है बसपा और सपा का विकल्प ढूँढना!

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में भाजपा के पुनः सत्ता में आने से बहुजन समाज के लोगों को जितना आघात लगा है, उससे कई...

क्या यादव बहुजनों के वर्ग शत्रु हैं?

यादवों के प्रति बहुजनों और सवर्णों का नजरिया जानने और उसका मनोवैज्ञानिक अध्ययन सामने लाने के मकसद से मैंने 26 फ़रवरी को फेसबुक पर...

उत्तर प्रदेश चुनाव में प्रियंका गांधी की बढ़ती लोकप्रियता  के मायने 

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में, जैसे-जैसे मतदान के चरण समाप्त हो रहे हैं वैस-वैसे चरण दर चरण कांग्रेस की राष्ट्रीय महामंत्री और उत्तर प्रदेश...

भारतीय राजनीति में बसपा की उपस्थिति की मायने

उत्तर प्रदेश में 10 मार्च को जो भी चुनाव परिणाम हों, भारतीय राजनीति में दो चीजें हमेशा अत्यंत महत्वपूर्ण रहेंगी क्योंकि वे कभी भी फीनिक्स की तरह उठ सकती...

फर्क केवल नजरिया का नहीं, नीयत का भी है (डायरी 18 अक्टूबर, 2021)  

कल का दिन बहुत खास रहा। मन बहुत रोमांचित था। इसकी वजह भी बहुत खास थी। दरअसल कल दो रूसी फिल्म कलाकारों और एक...

ताज़ा ख़बरें