Sunday, June 23, 2024
होमTagsRam Puniyani

TAG

Ram Puniyani

स्वस्थ लोकतंत्र के लिए गंभीर खतरा है दलबदल की मौजूदा राजनीति

भारत देश के चुनावों को करोड़पतियों ने हाईजैक कर लिया है। जितने उम्मीदवार चुनावी मैदान में उतरते हैं. उनमें से बहुसंख्यक करोड़पति होते हैं।...

पश्चिम एशिया संकट के बीच और मुसीबत में दमित फिलिस्तीनी

गत 7 अक्टूबर 2023 को हमास द्वारा इजराइल के कुछ ठिकानों पर हमले और करीब 200 यहूदियों को बंधक बना लिए जाने के बाद...

गोलवलकर की विरासत की काली छाया और आरएसएस के 100 वर्ष

इंडिया टुडे ने 4-5 अक्टूबर, 2023 को मुंबई में आयोजित अपने वार्षिक सम्मेलन में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) पर आरएसएस 100 वर्ष: एमएस गोलवलकर...

क्या भारत, इंडिया का विरोधी है?

संयोगवश, विपक्षी दलों के एक साथ आकर I.N.D.I.A. (इंडियन नेशनल डेमोक्रेटिक इंक्लूसिव एलायंस) बनाने के बाद, सत्तारूढ़ भाजपा आधिकारिक विज्ञप्तियों में 'इंडिया' शब्द के...

बढ़ रहा है सांप्रदायिक राष्ट्रवाद का संकट, अब जरूरी है सद्भाव की वापसी

देश के अलग-अलग हिस्सों में भयावह हिंसा हो रही है।  मणिपुर में पिछले तीन महीने से हिंसा जारी है। इसमें करीब 100 व्यक्ति अपनी...

इंडिया बनाम भारत या इंडिया जो भारत है?

पिछले नौ सालों से भाजपा हमारे देश पर शासन कर रही है। विपक्षी पार्टियों को धीरे-धीरे यह समझ में आया कि भाजपा सरकार न...

सांप्रदायिकता, हिन्दुत्व और बीजेपी का चुनावी तरीका

आपने राम जन्मभूमि आंदोलन के समय और उसके बाद, उत्तर भारत में इस विषय पर अत्यंत विस्तृत अध्ययन किया है, विशेष रुप से दंगाग्रस्त स्थानों में।...

जातिगत अहंकार की पराकाष्ठा है आदिवासी पर मूत्र विसर्जन

गत 6 जुलाई (2023) को मध्यप्रदेश के सीधी में प्रवेश शुक्ला नाम के भाजपा कार्यकर्ता ने एक आदिवासी युवक पर पेशाब कर दी। प्रवेश...

प्रधानमंत्री जी! समान नागरिक संहिता का ड्राफ्ट कहाँ है

विधि आयोग की अधिसूचना और प्रधानमंत्री मोदी की उसे लागू करने की जबरदस्त वकालत के चलते समान नागरिक संहिता (यूसीसी) एक बार फिर चर्चा...

नस्लीय नफरत के सहारे सांप्रदायिक हिंसा का रूप ले रहा है मणिपुर

उच्च न्यायालय द्वारा मैतेई समुदाय को अनुसूचित जनजाति (एसटी) के रूप में मान्यता दिए जाने के बाद से मणिपुर में भड़की जबरदस्त हिंसा में...

टीपू सुल्तानः नायक या खलनायक?

हाल में कर्नाटक में दलबदल और विधायकों की खरीद-फरोख्त का खुला खेल हुआ जिसके फलस्वरूप, कांग्रेस-जेडीएस सरकार गिर गई और भाजपा ने राज्य में...

नफरत के दौर में सद्भाव की बात

पिछले माह मन को विचलित करने वाली अनेक घटनाएं हुईं। ये घटनाएं हिंसा और स्त्रियों के प्रति द्वेष को बढ़ावा देने वाली, मुस्लिम महिलाओं...

वसुधैव कुटुम्बकम अर्थात भारत को एक रखना

अनेकता में एकता, यह वाक्यांश मैंने तभी सुन लिया था जब मैं स्कूल में पढ़ता था। मैं विजयादशमी के दस दिन पहले से होने...

नफरत फैलाना, हिंसा भड़काना अब नहीं है अपराध!

सूरजपाल अमु ने अत्यंत घटिया और नफरत फैलाने वाला भाषण दिया। उसके बाद उन्हें भाजपा की राज्य इकाई का प्रवक्ता बना दिया गया। गौरक्षा-बीफ...

हंसी सबसे अच्छी दवा है: मुनव्वर फारूकी

स्टेंडअप कामेडियन मुनव्वर फारूकी बंगलौर में एक परोपकारी संस्था के लिए अपना शो करने वाले थे। पूरे टिकट बिक चुके थे। फिर आयोजकों को...

क्या गाँधी ने सावरकर से दया याचिका प्रस्तुत करने के लिए कहा था?

हिन्दू राष्ट्रवाद अपने नये नायकों को गढ़ने और पुरानों की छवि चमकाने का हर संभव प्रयास कर रहा है। इसके लिए कई स्तरों पर...

कौन बनाता है मुख्यमंत्री?

तत्कालीन राष्ट्रपति नीलम संजीव रेड्डी ने एक बार कहा था कि पंडित नेहरू के समय मुख्यमंत्री नामजद नहीं होते थे. उनकी इस टिप्पणी के...

क्या सभी कट्टरपंथी एक ही थैली के चट्टे-बट्टे होते हैं?

क्या तालिबान की तुलना आरएसएस से हो सकती है? अफगानिस्तान में तालिबान की सत्ता में वापिसी ने उनके पिछले शासनकाल की यादें ताजा कर दी...

हिन्दू-मुस्लिम सद्भाव और भविष्य की चुनौतियाँ

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सरसंघचालक मोहन भागवत ने हाल में कहा था कि भारत में इस्लाम खतरे में नहीं है; कि कलह करने...

जनसंख्या नियंत्रण : क्या ज़ोर-ज़बरदस्ती से कुछ होगा?

असम सरकार द्वारा कुछ समय पूर्व लागू की गई जनसंख्या नियंत्रण नीति के अंतर्गत दो से अधिक संतानों वाले अभिवावक, स्थानीय संस्थाओं के चुनाव...

ताज़ा ख़बरें