Saturday, July 13, 2024
होमराज्यउप्र: अनियंत्रित कार ट्रक से टकराई, सीएनजी टैंक फटने से लगी आग,...

ताज़ा ख़बरें

संबंधित खबरें

उप्र: अनियंत्रित कार ट्रक से टकराई, सीएनजी टैंक फटने से लगी आग, आठ लोगों की मौत

बरेली (उप्र),(भाषा)।  बरेली जिले में बरेली-नैनीताल मार्ग पर टायर फटने से अनियंत्रित हुई एक कार डिवाइडर तोड़ते हुए सड़क के दूसरी ओर खड़े ट्रक से जा टकराई जिससे कार में आग लग गई और आठ लोगों की झुलसने से मौत हो गई।  पुलिस सूत्रों ने रविवार को बताया कि शनिवार देर रात बरेली-नैनीताल मार्ग पर […]

बरेली (उप्र),(भाषा)।  बरेली जिले में बरेली-नैनीताल मार्ग पर टायर फटने से अनियंत्रित हुई एक कार डिवाइडर तोड़ते हुए सड़क के दूसरी ओर खड़े ट्रक से जा टकराई जिससे कार में आग लग गई और आठ लोगों की झुलसने से मौत हो गई। 

पुलिस सूत्रों ने रविवार को बताया कि शनिवार देर रात बरेली-नैनीताल मार्ग पर दुभौरा गांव के पास एक लग्जरी कार का टायर फट गया जिससे वह अनियंत्रित होकर डिवाइडर तोड़ते हुए सड़क की दूसरी तरफ पहुंच गई और वहां खड़े एक ट्रक से जा टकराई। उन्होंने बताया कि भोजीपुरा में बहेड़ी की ओर से आ रहे डंपर और शहर के फहम लॉन से शादी समारोह से लौट रही आर्टिगा कार की टैंकर से टक्कर हो गई। कार का सीएनजी टैंक फटने की वजह से आग लग गई। सेंटर लॉक होने की वजह से कार में सवार लोग बाहर नहीं निकाल पाए। एक बच्चे समेत आठ लोगों की जिंदा जलकर मौत हो गई। आईजी, डीएम और एसएसपी में घटनास्थल का जायजा लिया है। शवों को टुकड़ों में बाहर निकाल कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार टक्कर के बाद आग लगने से  देखते ही देखते कार आग का गोला बन गई। इसमें सवार एक बच्चा समेत सभी 8 आठ लोग  कोयला बन गए। घटना की जानकारी मिलते ही आईजी डॉ. राकेश सिंह, डीएम रविंद्र कुमार, एसएसपी घुले सुशील चंद्रभान मौके पर पहुंचे। सीओ नवाबगंज चमन ने फायर ब्रिगेड की चार गाड़ियां बुलाई। क्रेन के जरिए डंपर में फंसी कार को निकाला गया। आग का गोला बन चुकी कार में शव कोयला हो चुके थे।पुलिस अधीक्षक सुशील चंद्रभान ने घटना में एक बच्चे समेत आठ लोगों की मौत होने की पुष्टि की है। मृतकों की पहचान अभी तक नहीं हो सकी है।

घटना की सूचना पर सीएफओ बहेड़ी और बरेली फायर स्टेशन की चार गाड़ियों के साथ मौके पर पहुंची। आग इतनी विकराल थी कि उस पर आसानी से काबू नहीं पाया जा सका। करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद गाड़ियों की आग बुझाई जा सकी, लेकिन इसके बाद भी उनमें आग की तपिश बनी रही। काफी देर तक पानी डालकर ठंड़ा करने के बाद शवों को बाहर निकाला जा सका। शव कार में ऐसी फंस गई थी, उन्हें टुकड़े में बाहर निकालना पड़ा।

यह कार सुमित गुप्ता नाम के व्यक्ति की थी, जिसने इसे फुरकान नाम के एक व्यक्ति को दिया था। सूत्रों ने बताया कि जब तक पुलिस मौके पर पहुंची तब तक कार पूरी तरह से जल चुकी थी। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

गाँव के लोग
गाँव के लोग
पत्रकारिता में जनसरोकारों और सामाजिक न्याय के विज़न के साथ काम कर रही वेबसाइट। इसकी ग्राउंड रिपोर्टिंग और कहानियाँ देश की सच्ची तस्वीर दिखाती हैं। प्रतिदिन पढ़ें देश की हलचलों के बारे में । वेबसाइट की यथासंभव मदद करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय खबरें