Wednesday, February 28, 2024
होमराजनीतिमोहन यादव बनेंगे मध्य प्रदेश के नए मुख्यमंत्री, जगदीश देवड़ा और राजेश...

ताज़ा ख़बरें

संबंधित खबरें

मोहन यादव बनेंगे मध्य प्रदेश के नए मुख्यमंत्री, जगदीश देवड़ा और राजेश शुक्‍ल होंगे डिप्‍टी सीएम

बीजेपी ने मध्य प्रदेश में अपने मुख्यमंत्री का ऐलान कर दिया है। विधायक दल की बैठक में मोहन यादव को राज्य का नया सीएम चुना गया है। मोहन यादव उज्जैन दक्षिण से विधायक हैं। उनके नाम का प्रस्ताव खुद शिवराज सिंह चौहान ने रखा था। मोहन यादव का नाम सीएम के रूप में काफी चौंकाने […]

बीजेपी ने मध्य प्रदेश में अपने मुख्यमंत्री का ऐलान कर दिया है। विधायक दल की बैठक में मोहन यादव को राज्य का नया सीएम चुना गया है। मोहन यादव उज्जैन दक्षिण से विधायक हैं। उनके नाम का प्रस्ताव खुद शिवराज सिंह चौहान ने रखा था। मोहन यादव का नाम सीएम के रूप में काफी चौंकाने वाला है। दरअसल सीएम पद की रेस में शिवराज सिंह चौहान, नरेंद्र सिंह तोमर, प्रहलाद सिंह पटेल, कैलाश विजयवर्गीय, वीडी शर्मा और ज्योतिरादित्य सिंधिया का नाम सामने आया था लेकिन मोहन यादव को सीएम बनाए जाने से सियासी गलियारे में हड़कंप मच गया है। दक्षिण सीट से मोहन यादव ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस उम्मीदवार चेतन प्रेमनारायण यादव को 12941 वोटों से हराया था। मोहन यादव को जहां 95699 वोट मिले थे तो वहीं चेतन प्रेमनारायण यादव को 82758 वोट मिले थे।

मोहन यादव उज्जैन दक्षिण से विधायक हैं और वह शिवराज सरकार में मंत्री थे। मोहन यादव को आरएसएस का बेहद करीबी माना जाता है। उनके नाम की घोषणा बेहद चौंकाने वाली है। विधायक दल की बैठक में पार्टी ने राज्य में दो डिप्‍टी सीएम बनाने का भी फैसला किया है। जगदीश देवड़ा और राजेश शुक्‍ल डिप्‍टी सीएम होंगे। वहीं, पार्टी ने नरेंद्र सिंह तोमर को विधानसभा का स्पीकर बनाने का फैसला किया है। यह सारे नाम अब तक लगाए जा रहे कयास से परे हैं।

मोहन यादव को मुख्यमंत्री बनाकर भाजपा ने अभी से लोकसभा में पिछड़ी जाति को अपने पाले में लाने की पहल शुरू कर दी है। मोहन यादव के मुख्यमंत्री बनने से मध्यप्रदेश ही नहीं बल्कि पूरी हिन्दी पट्टी में पिछड़ी जाति के मतदाताओं को अपने साथ साधने में भाजपा को मदद मिलेगी। भाजपा तीनों राज्यों में मुख्यमंत्री इस तरह से बना रही है कि लोकसभा में विपक्षी पार्टियां उसे जाति के स्तर पर मात न दे सकें। इसी पहल के तहत छत्तीसगढ़ में आदिवासी नेता विष्णुदेव साय को भाजपा ने अपना मुख्यमंत्री चेहरा चुना है ।

एमपी के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने काफी संघर्ष के बाद राजनीति में मुकाम हासिल किया है। छात्र राजनीति से करियर की शुरुआत करने वाले मोहन यादव बीजेपी के स्थापित नेता हैं। उज्जैन संभाग के बड़े नेताओं में उनकी गिनती होती है।

मोहन यादव 2 जुलाई 2020 को शिवराज सिंह चौहान सरकार में कैबिनेट मंत्री बने थे। उनको उच्च शिक्षा मंत्री का कामकाज सौंपा गया था। यादव की छवि हिंदुवादी नेता की रही है। 25 मार्च 1965 को उज्जैन में जन्मे मोहन यादव ने विक्रम यूनिवर्सिटी से पढ़ाई की है।

मुख्यमंत्री के रूप में नाम घोषित होने के बाद बधाई स्वीकार करते मोहन यादव

 भाजपा के तीन केंद्रीय पर्यवेक्षकों ने विधायक दल की महत्वपूर्ण बैठक से पहले मध्य प्रदेश के अगले मुख्यमंत्री का फैसला करने के लिए सोमवार को भोपाल पहुंचकर पार्टी विधायकों और कोर समिति के सदस्यों से बातचीत की। बैठक शाम चार बजे शुरू हुई। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, ओबीसी मोर्चा के प्रमुख के लक्ष्मण और सचिव आशा लाकड़ा सहित केंद्रीय पर्यवेक्षक सुबह करीब साढ़े 11 बजे विशेष विमान से भोपाल पहुंचे।

राज्य भाजपा मुख्यालय में कोर कमेटी की बैठक हुई, जहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और वरिष्ठ नेता नरेंद्र सिंह तोमर, प्रह्लाद पटेल और कैलाश विजयवर्गीय मौजूद थे। इस बीच, चौहान, तोमर, पटेल और विजयवर्गीय के समर्थक पार्टी मुख्यालय के बाहर जमा हो गए और अपने-अपने नेताओं के पक्ष में नारे लगाए गए।

इससे पहले दिन में, खट्टर, के लक्ष्मण और लाकड़ा एक विशेष विमान से भोपाल हवाई अड्डे पर उतरे जहां उनका स्वागत मध्य प्रदेश भाजपा प्रमुख वीडी शर्मा और अन्य नेताओं ने किया।

हवाई अड्डे से तीनों पर्यवेक्षक मुख्यमंत्री चौहान से मिलने के लिए मुख्यमंत्री आवास की ओर रवाना हुए।

भारतीय जनता पार्टी  ने 17 नवंबर को संपन्न हुए विधानसभा चुनाव के बाद मध्य प्रदेश में सत्ता बरकरार रखी। 230 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा ने 163 सीट जीतीं, जबकि कांग्रेस 66 सीट के साथ दूसरे स्थान पर रही।

राज्य भाजपा कार्यालय को फूलों और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पोस्टरों के साथ सजाया गया है और जगह-जगह पर “मप्र के मन में मोदी, देश के मन में मोदी” के नारे लिखे गये हैं।

मोहन यादव 2013 में पहली बार विधायक बने थे और मात्र 10 साल की राजनीतिक पारी में उन्होंने मध्य प्रदेश भाजपा के तमाम दिग्गजों को किनारे कर मुख्यमंत्री पद हासिल कर लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय खबरें