Sunday, June 23, 2024
होमराजनीतिकांग्रेस की नई लिस्ट में महिलाओं और युवाओं की दिखी अधिक भागेदारी

ताज़ा ख़बरें

संबंधित खबरें

कांग्रेस की नई लिस्ट में महिलाओं और युवाओं की दिखी अधिक भागेदारी

कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश चुनाव के लिए अपने 125 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर दी है। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उत्तर प्रदेश चुनाव में अपने प्रत्याशियों की पहली लिस्ट जारी की। प्रियंका गांधी ने स्वयं लिस्ट जारी कर 40% महिलाओं को टिकट देने के वादे को […]

कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश चुनाव के लिए अपने 125 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर दी है। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उत्तर प्रदेश चुनाव में अपने प्रत्याशियों की पहली लिस्ट जारी की। प्रियंका गांधी ने स्वयं लिस्ट जारी कर 40% महिलाओं को टिकट देने के वादे को भी पूरा किया। पहली लिस्ट में 50 महिलाओं को कांग्रेस ने प्रत्याशी बनाया है।

पहली सूची जारी करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि कांग्रेस ने उन महिलाओं को प्रत्याशी बनाया है जिन महिलाओं ने अपराध के खिलाफ संघर्ष किया है। इस लिस्ट में बहुचर्चित उन्नाव केस के पीड़ित परिवार की महिला को भी कांग्रेस ने टिकट दिया है।

[bs-quote quote=”उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में प्रियंका गांधी द्वारा प्रत्याशियों की लिस्ट प्रेस के सामने जारी करना, कांग्रेस के आम कार्यकर्ताओं के हौसलों को भी बढ़ाता है। क्योंकि कांग्रेस के आम कार्यकर्ताओं और देश ने पहली बार ऐसा देखा है जब गांधी परिवार के किसी सदस्य ने सार्वजनिक आकर प्रेस के सामने अपने प्रत्याशियों की घोषणा की है, और वह भी नाम पढ़कर।” style=”style-2″ align=”center” color=”” author_name=”” author_job=”” author_avatar=”” author_link=””][/bs-quote]

देश के जो राजनीतिक पंडित और राजनीतिक विश्लेषक कांग्रेस के 40% महिलाओं को टिकट देने के एलान पर संदेह व्यक्त कर रहे थे कि कांग्रेस इतनी महिला उम्मीदवार लाएगी कहां से, तो कांग्रेस प्रत्याशियों की पहली लिस्ट देखकर शायद अब उन्हें इसका जवाब मिल गया होगा। क्योंकि पहली ही लिस्ट में कांग्रेस ने 50 प्रत्याशी घोषित कर बता दिया है कि कांग्रेस के पास महिला उम्मीदवार है।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में प्रियंका गांधी द्वारा प्रत्याशियों की लिस्ट प्रेस के सामने जारी करना, कांग्रेस के आम कार्यकर्ताओं के हौसलों को भी बढ़ाता है। क्योंकि कांग्रेस के आम कार्यकर्ताओं और देश ने पहली बार ऐसा देखा है जब गांधी परिवार के किसी सदस्य ने सार्वजनिक आकर प्रेस के सामने अपने प्रत्याशियों की घोषणा की है, और वह भी नाम पढ़कर। जबकि इससे पहले किसी भी राज्य के चुनाव में, एक लाइन का प्रस्ताव पारित होता था और टिकट का फैसला हाईकमान के ऊपर छोड़ दिया जाता था। ऊपर से जब लिस्ट प्रिंट होकर निकलती थी तब टिकटों को लेकर कार्यकर्ताओं के बीच संदेह उत्पन्न होता था की टिकटों पर मंथन हाईकमान के पास बैठकर हुआ भी था या नहीं। लेकिन उत्तर प्रदेश में स्वयं प्रियंका गांधी ने उम्मीदवारों की सूची जारी कर कार्यकर्ताओं के संदेह पर भी विराम लगा दिया है।

यह भी देखें:

उत्तर प्रदेश की तरह अन्य राज्यों में भी कांग्रेस को मजबूत करने के लिए ऐसे ही निर्णय लेने की आवश्यकता है। ऐसे पारदर्शी निर्णय से कांग्रेस के कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ेगा और हाईकमान पर विश्वास जगेगा।
कांग्रेस की पहली लिस्ट पर नजर डालें तो इस लिस्ट में महिला और युवा फैक्टर साफ तौर पर नजर आता है, जिसका जिक्र प्रियंका गांधी ने किया भी है कि कांग्रेस ने महिला और युवाओं को अधिक टिकट दिए हैं।

कांग्रेस का महिला और युवा वाला दाब, यूपी चुनाव में उलटफेर भी कर सकता है क्या, क्योंकि भाजपा अक्सर युवा ताकत का जिक्र करती है, और महिला और युवा मतदाताओं का अधिक वोट भी हासिल करती है। ऐसे में कांग्रेस का अधिक संख्या में महिला और युवाओं को प्रत्याशी बनाने वाला दांव भाजपा को नुकसान पहुंचाएगा क्या?

देवेंद्र यादव कोटा स्थित वरिष्ठ पत्रकार हैं।

गाँव के लोग
गाँव के लोग
पत्रकारिता में जनसरोकारों और सामाजिक न्याय के विज़न के साथ काम कर रही वेबसाइट। इसकी ग्राउंड रिपोर्टिंग और कहानियाँ देश की सच्ची तस्वीर दिखाती हैं। प्रतिदिन पढ़ें देश की हलचलों के बारे में । वेबसाइट की यथासंभव मदद करें।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय खबरें