Wednesday, February 28, 2024
होमराज्यतेलंगाना में लगभग 63.94 प्रतिशत मतदान, कांग्रेस और बीआरएस के बीच...

ताज़ा ख़बरें

संबंधित खबरें

तेलंगाना में लगभग 63.94 प्रतिशत मतदान, कांग्रेस और बीआरएस के बीच कांटे की टक्कर

हैदराबाद (भाषा)।  तेलंगाना में विधानसभा की 119 सीट पर चुनाव के लिए मतदान आज सुबह सात बजे शुरू हुआ। अधिकारियों ने बताया कि राज्य के 35,655 मतदान केंद्रों पर सुबह सात बजे मतदान शुरू हुआ। उन्होंने बताया कि 106 निर्वाचन क्षेत्रों में सुबह सात बजे से शाम पांच बजे तक और 13 वामपंथी उग्रवाद (एलडब्ल्यूई) […]

हैदराबाद (भाषा)।  तेलंगाना में विधानसभा की 119 सीट पर चुनाव के लिए मतदान आज सुबह सात बजे शुरू हुआ। अधिकारियों ने बताया कि राज्य के 35,655 मतदान केंद्रों पर सुबह सात बजे मतदान शुरू हुआ। उन्होंने बताया कि 106 निर्वाचन क्षेत्रों में सुबह सात बजे से शाम पांच बजे तक और 13 वामपंथी उग्रवाद (एलडब्ल्यूई) प्रभावित निर्वाचन क्षेत्रों में शाम चार बजे तक मतदान होगा। तेलंगाना विधानसभा चुनाव   में शाम 5 बजे तक करीब 63.94 प्रतिशत मतदान हुआ है

अधिकारियों के मुताबिक राज्य में 3.26 करोड़ पात्र मतदाता हैं, जिनमें 1,63,13,268 पुरुष तथा 1,63,02,261 महिला मतदाता शामिल हैं।राज्य विधानसभा चुनाव के लिए 2,290 उम्मीदवार मैदान में हैं, जिनमें मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव, उनके मंत्री-पुत्र के टी रामाराव, कांग्रेस की राज्य इकाई के अध्यक्ष ए रेवंत रेड्डी और भाजपा के लोकसभा सदस्य बंदी संजय कुमार शामिल हैं।

तेलंगाना में सत्तारूढ़ भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) ने सभी 119 सीट पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं। भाजपा सीट बंटवारे समझौते के अनुसार 111 सीट पर और शेष आठ सीट पर अभिनेता पवन कल्याण की अगुवाई वाली जन सेना के उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। कांग्रेस ने अपनी सहयोगी पार्टी भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) को एक सीट दी है और स्वयं 118 सीट पर चुनाव लड़ रही है। असदुद्दीन ओवैसी के नेतृत्व वाली ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) ने हैदराबाद शहर के नौ निर्वाचन क्षेत्रों में अपने उम्मीदवार उतारे हैं।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी विकास राज ने कहा है कि विधानसभा चुनाव के लिए 2.5 लाख से अधिक कर्मचारियों को ड्यूटी पर तैनात किया गया है। तेलंगाना में पहली बार दिव्यांगों और 80 वर्ष से अधिक उम्र के मतदाताओं को घर पर मतदान की सुविधा प्रदान की जाएगी। मतों की गिनती तीन दिसंबर को होगी।

कड़ी सुरक्षा के बीच आज प्रात: सात बजे मतदान शुरू हुआ। मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव और उनकी पत्नी के. शोभा ने सिद्दीपेट में चिनरामाडाका गांव में मतदान किया। केंद्रीय मंत्री और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष जी किशन रेड्डी, बीआरएस के कार्यकारी अध्यक्ष के टी रामा राव, उनकी बहन और विधान पार्षद के. कविता, ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी उन नेताओं में शामिल हैं, जिन्होंने सुबह सात बजे मतदान आरंभ होने के बाद शुरुआती घंटों में अपने मताधिकार का उपयोग किया। चिरंजीवी, वेंकटेश और अल्लू अर्जुन सहित कई फिल्मी हस्तियों ने भी सुबह मतदान किया।

भारत के लोकतंत्र की सराहना करते हुए, तेलंगाना में भाजपा के अध्यक्ष जी किशन रेड्डी ने कहा कि मतदान की जिम्मेदारी पूरी किए बिना किसी को राजनीतिक व्यवस्था की आलोचना करने का अधिकार नहीं है। मतदाताओं को लुभाने के लिए पैसे और शराब के वितरण को गलत बताते हुए रेड्डी ने मतदाताओं से निडर होकर और किसी भी प्रलोभन से प्रभावित हुए बिना मतदान करने का आग्रह किया। रामा राव ने तेलंगाना के लोगों से बाहर निकलने और बड़ी संख्या में अपने मताधिकार का उपयोग करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि मतदान कर एक नागरिक के रूप में उन्होंने अपना कर्तव्य पूरा किया है।

राज्य के शहरी इलाकों में पूर्व में देखी गई उदासीनता का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, ‘केवल जो लोग सामने आते हैं उनकी गिनती होती है और बाकी लोगों की लोकतंत्र में कोई गिनती नहीं होती है।’

बीआरएस सुप्रीमो और मुख्यमंत्री के.चंद्रशेखर राव की बेटी कविता ने यहां बंजारा हिल्स में अपना वोट डाला। उन्होंने कहा, ‘मैं तेलंगाना के सभी लोगों से अनुरोध करती हूं कि वे बाहर आएं और अपने अधिकार का उपयोग करें। क्योंकि जब आप मतदान करते हैं तो आपको हमसे सवाल करने का अधिकार होता है। जब आप मतदान करते हैं, तो आप राजनेताओं को जवाबदेह ठहरा सकते हैं।’

राजेंद्रनगर विधानसभा क्षेत्र के एक स्कूल में मतदान करने वाले ओवैसी ने भी मतदाताओं से बाहर आकर वोट डालने का आग्रह किया। उन्होंने कहा ‘हमें उम्मीद है कि हम (एआईएमआईएम) अच्छा प्रदर्शन करेंगे। लोगों को हजारों और लाखों की संख्या में वोट देने आना चाहिए  और अपने मताधिकार का उपयोग करना चाहिए  ताकि वे उम्मीदवार जीत हासिल कर सकें जो आपके लिए काम कर रहे हैं, जो आपकी परवाह करते हैं।’

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और सांसद ए रेवंत रेड्डी ने कोडंगल विधानसभा क्षेत्र में मतदान किया जहां वह पार्टी के उम्मीदवार हैं। कांग्रेस ने कहा कि उसने मुख्य निर्वाचन अधिकारी विकास राज के संज्ञान में बीआरएस नेता कविता द्वारा लोगों से बीआरएस को वोट देने की अपील कर चुनाव आचार संहिता का कथित उल्लंघन किए जाने की बात लाई है।

तेलंगाना विधान सभा चुनाव में कांग्रेस और सत्ताधारी पार्टी बीआरएस के बीच करीबी टक्कर देखने को मिल रही है। दोनों ही पार्टियों के नेता अपनी  अपनी जीत के दावे कर रहें हैं। एक तरफ जहां तेलंगाना में सत्तारूढ़ भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) के कार्यकारी अध्यक्ष और मंत्री के.टी. रामाराव ने अपनी  पार्टी की जीत का दावा किया है। सामाजिक कार्यकर्ता और राजनीतिक विश्लेषक योगेंद्र यादव ने कांग्रेस की जीत को लेकर बड़ा दावा किया है। उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि तेलंगाना में कांग्रेस की हवा नहीं आंधी चल रही है।  इतना ही नहीं तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रेवंत रेड्डी ने कहा कि इस बार के विधानसभा चुनाव में हम केसीआर के 10 साल के कुशासन का अंत करने में कामयाब होंगे। उन्होंने राज्य में दो तिहाई बहुमत से सरकार बनाने का दावा करने के साथ अभी  से 9 तारीख को कांग्रेस सरकार के शपथग्रहण का ऐलान तक कर दिया है ।

तेलंगाना चुनाव पर डिप्टी सीएम और बीजेपी नेता बृजेश पाठक ने कहा कि तेलंगाना में आज मतदान हो रहा है. जिस तरह से सभी समुदायों के लोग बीजेपी के लिए मतदान केंद्रों पर आ रहे हैं, हम कह सकते हैं कि पार्टी, तेलंगाना में ‘कमल’ खिलाने के लिए तैयार है।

तेलंगाना में सत्तारूढ़ भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) के कार्यकारी अध्यक्ष और मंत्री के.टी. रामाराव ने अपनी  पार्टी की जीत का दावा किया है।

गाँव के लोग
पत्रकारिता में जनसरोकारों और सामाजिक न्याय के विज़न के साथ काम कर रही वेबसाइट। इसकी ग्राउंड रिपोर्टिंग और कहानियाँ देश की सच्ची तस्वीर दिखाती हैं। प्रतिदिन पढ़ें देश की हलचलों के बारे में । वेबसाइट की यथासंभव मदद करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय खबरें