Friday, February 23, 2024
होमराज्यमप्र के हरदा शहर में पटाखा कारखाने में आग लगने से नौ...

ताज़ा ख़बरें

संबंधित खबरें

मप्र के हरदा शहर में पटाखा कारखाने में आग लगने से नौ लोगों की मौत, 200 घायल

हरदा/भोपाल (भाषा)। मध्यप्रदेश के हरदा शहर में मंगलवार को पटाखा कारखाने में विस्फोट के बाद लगी आग से   नौ लोगों की मौत हो गयी जबकि 200 अन्य घायल हो गए। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। घटना के कुछ वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आए, जिसमें घटनास्थल पर रुक-रुक कर हो रहे विस्फोटों के साथ आग […]

हरदा/भोपाल (भाषा)। मध्यप्रदेश के हरदा शहर में मंगलवार को पटाखा कारखाने में विस्फोट के बाद लगी आग से   नौ लोगों की मौत हो गयी जबकि 200 अन्य घायल हो गए। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। घटना के कुछ वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आए, जिसमें घटनास्थल पर रुक-रुक कर हो रहे विस्फोटों के साथ आग लगने के बीच लोग खुद को बचाने के लिए भागते नजर आ रहे हैं। वीडियो में कारखाने से निकलते धुएं के घने गुबार दिखाई दे रहे हैं।

यह घटना प्रदेश की राजधानी भोपाल से लगभग 150 किलोमीटर दूर हरदा शहर के बाहरी इलाके मगरधा रोड पर बैरागढ़ में हुई। अधिकारियों के अनुसार विस्फोट का कारण अभी तक पता नहीं चला है और आग पर काबू पाने के प्रयास जारी हैं।

अतिरिक्त मुख्य सचिव (एसीएस) गृह संजय दुबे ने भाषा को बताया, ‘हरदा घटना में अब तक नौ लोगों के मौत की खबर है और लगभग 200 अन्य घायल हुए हैं। घायल खतरे से बाहर हैं।’

घटना के बाद मुख्यमंत्री मोहन यादव ने बैठक की और कहा कि बचाव कार्य के लिए हेलीकॉप्टर की व्यवस्था के लिए सेना से संपर्क किया जा रहा है। यही नहीं मुख्यमंत्री ने हादसे में घायलों को तत्काल उपचार उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा, ‘मैंने संबंधित अधिकारियों से बात की और घटना का विवरण मांगा है।’

मुख्यमंत्री ने कहा कि घटना के बारे में केंद्र को सूचित कर दिया गया है। मुख्यमंत्री ने हादसे में मरने वाले के परिजनों को 4-4 लाख रुपये की सहायता देने की घोषणा की। मुख्यमंत्री मोहन यादव ने कहा कि घायलों के उपचार का पूरा खर्च राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने प्रदेश सरकार के मंत्री उदय प्रताप सिंह, अपर मुख्य सचिव अजीत केसरी और होमगार्ड के महानिदेशक अरविंद कुमार को हेलीकॉप्टर से हरदा पहुंचने का निर्देश दिया।

अधिकारी ने बताया कि इंदौर, भोपाल के अस्पतालों और राज्य की राजधानी स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) को आपात स्थिति के लिए आवश्यक व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया है। मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) ने कहा कि यादव ने घटना के संबंध में अधिकारियों के साथ बैठक की।

मुख्यमंत्री कार्यालय ने ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, ‘बैठक में मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि हरदा हादसे में घायलों को तत्काल इलाज मुहैया कराना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। आसपास के इलाकों से हरदा में एंबुलेंस भेजी जा रही हैं और हेलीकॉप्टर की व्यवस्था के लिए सेना से संपर्क किया गया है।’

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने कहा कि वह इस त्रासदी में लोगों की मौत से बेहद दुखी हैं और शोक संतप्त परिवार के सदस्यों के प्रति संवेदना व्यक्त करती हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘एक्स’ पर पोस्ट में कहा, ‘मध्यप्रदेश के हरदा में एक पटाखा कारखाने में दुर्घटना के कारण लोगों की मौत से व्यथित हूं। उन सभी के प्रति संवेदना जिन्होंने अपने प्रियजनों को खोया है। जो घायल हुए हैं वे जल्द से जल्द ठीक हो जाएं।’

मोदी ने प्रत्येक मृतक के परिजन को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से दो-दो लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय खबरें