लगातार कम होता जा रहा स्वास्थ्य बजट चिन्ता का विषय है

भुवाल यादव,विशेष संवाददाता,गाँव के लोग डॉट कॉम

0 216

17 नवम्बर को सहयोग संस्था, लखनऊ और पाई के संयुक्त तत्वावधान में दीनदयाल हास्पिटल पाण्डेयपुर स्थित ‘वन स्टॉप आपकी सखी केंद्र’ वाराणसी के सभागार में बुधवार को स्वास्थ्य विभाग, गैर सरकारी संस्थाओं और स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं तथा ग्राम पंचायतों की महिला नेतृत्वकर्ताओं के साथ जिला स्तरीय संवाद का आयोजन किया गया। लोक समिति के नंदलाल भाई ने लगातार कम होते जा रहे स्वास्थ्य बजट को कर्मचारियों और संसाधनों की कमी का प्रमुख कारण बताया। उन्होंने कहा कि बढ़ती हुई मंहगाई और जनसंख्या वृद्धि के अनुकूल यदि स्वास्थ्य बजट नहीं बढ़ता है तो आने वाला भविष्य जनता और देश के लिए ख़तरनाक साबित होगा। इसलिए हमें लगातार कम होते जा रहे स्वास्थ्य बजट पर चिंतन करने की जरूरत है।

लोक चेतना समिति की निदेशिका रंजू सिंह ने विषय प्रवर्तन करते हुए कहा कि चिरईगांव के 12 ग्राम पंचायतों में स्वास्थ्य सुविधाओं की उपलब्धता पर कार्यक्षेत्र की वास्तविक स्थिति की सर्वे रिपोर्ट प्रस्तुत करने  के साथ सरकार द्वारा स्वास्थ्य के लिए आवंटित आम बजट पर चर्चा किया जाएगा। शालिनी पांडेय ने बेहतर स्वास्थ्य एवं परिवार नियोजन के विभिन्न विंदुओं पर किये गये सर्वे की रिपोर्ट को प्रस्तुत करते हुए कोरोना काल में स्वास्थ्य सुविधाओं को आम जनता तक पहुंचाने पर ध्यान आकर्षित किया।

स्वास्थ्य संवाद में उपस्थित महिलाएं

चर्चा में भाग लेते हुए चिकित्सा अधीक्षक डॉ राम कुमार यादव कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं की उपलब्धता आशा वर्कर के कार्यों की वजह से बेहतर हुआ है। बढ़ती जनसंख्या के अनुपात में स्वास्थ्यकर्मियों की उपलब्धता के बीच संतुलन बनाने का प्रयास किया जा रहा है। बैठक में आम जनता के लिए आयुष्मान गोल्डेन कार्ड पर उपलब्ध सुविधाओं और उसकी वास्तविक स्थिति पर भी चर्चा हुई। इस संवाद में कई सामाजिक संगठन के सदस्यों ने प्रतियोगिता की। गैर सरकारी संस्थाओं में सहयोग संस्था के शादाब, एशियन ब्रिज की नीति, विश्व ज्योति संचार से प्रमोद, खादान मजदूर यूनियन से महेंद्र, लोक समिति से सोनी, जन विकास समिति से हेमा के अलावा चिरईगांव, काशी विद्यापीठ और चोलापुर विकास खण्ड के 35 ग्राम पंचायतों से स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और महिला नेतृत्व ने भाग लिया। कार्यक्रम में उपस्थित अतिथियों का स्वागत सुरेंद्र भाई ने और संचालन राजेश सिंह ने किया। संवाद के आयोजन में मुख्यत: पूनम, सूबेदार, अनिल, माला, सीमा, संतारा, सुजीत, शर्मिला, प्रियंका, निशा, झूला आदि ने सहयोग किया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.