Saturday, March 2, 2024
होमवीडियोयह किताब आरएसएस के हर झूठ को बेनक़ाब करती है 

ताज़ा ख़बरें

संबंधित खबरें

यह किताब आरएसएस के हर झूठ को बेनक़ाब करती है 

वरिष्ठ विचारक-लेखक और मानवाधिकार कार्यकर्ता राम पुनियानी की हाल ही में अगोरा प्रकाशन से प्रकाशित पुस्तक’हिंसा-सांप्रदायिकता : मिथक और यथार्थ’ इस अर्थ में एक अनूठी पुस्तक है कि हालिया दशकों में आरएसएस और उसके आनुषंगिक संगठनों द्वारा संविधान और इतिहास के साथ ही मुसलमानों के खिलाफ फैलाई गई झूठी अवधारणाओं का पर्दाफाश करती है। यह […]

वरिष्ठ विचारक-लेखक और मानवाधिकार कार्यकर्ता राम पुनियानी की हाल ही में अगोरा प्रकाशन से प्रकाशित पुस्तक’हिंसा-सांप्रदायिकता : मिथक और यथार्थ’ इस अर्थ में एक अनूठी पुस्तक है कि हालिया दशकों में आरएसएस और उसके आनुषंगिक संगठनों द्वारा संविधान और इतिहास के साथ ही मुसलमानों के खिलाफ फैलाई गई झूठी अवधारणाओं का पर्दाफाश करती है। यह बहुत छोटे-छोटे अध्यायों वाली ऐसी किताब है जो गहन शोध के साथ लिखी गई है। बिलकुल साधारण पाठक भी इसे बड़े मजे में दिनभर में पढ़ सकते हैं और मेरा दावा है कि इससे उनकी बौद्धिक समझ व्यापक बनेगी। इसी किताब पर आज बातचीत कर रहे हैं स्वयं प्रोफेसर राम पुनियानी और गाँव के लोग के संपादक रामजी यादव ।

गाँव के लोग
पत्रकारिता में जनसरोकारों और सामाजिक न्याय के विज़न के साथ काम कर रही वेबसाइट। इसकी ग्राउंड रिपोर्टिंग और कहानियाँ देश की सच्ची तस्वीर दिखाती हैं। प्रतिदिन पढ़ें देश की हलचलों के बारे में । वेबसाइट की यथासंभव मदद करें।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय खबरें