मुसहर समुदाय की ज़मीन हड़पने के लिए बिना पूर्व सूचना के बस्ती पर बुलडोजर चला दिया

गाँव के लोग वीडियो विभाग

0 482
प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी के राजातालाब तहसील के करसड़ा गांव में आबाद 70 से अधिक मुसहरों को बेघर कर देने की दर्दनाक कहानी। इस गाँव के रहने वाले मुसहर जनजाति के लोग पिछले 9 दिनों से ठण्ड में खुले आसमान के नीचे रह रहे हैं। उन्हें लगातार निहित स्वार्थी तत्वों द्वारा जगह छोडकर चले जाने की धमकी दी जा रही है जबकि उक्त ज़मीन पर चार बीघे से अधिक रकबे का पट्टा उनके नाम है। स्थानीय भूमाफिया, गुंडों और कॉर्पोरेट की मिलीभगत से तहसील स्तर पर शासन ने मुसहरों के खिलाफ एकतरफा कार्रवाई की है। यहाँ तक कि जब इस बस्ती के स्त्री-पुरुष जिलाधिकारी वाराणसी के पास अपना दुखड़ा सुनाने जा रहे थे तो बीच रास्ते से जबरन उन्हें वापस कर दिया गया। न्याय की उम्मीद में खुले आसमान के नीचे रात काटते इस आदिवासी समुदाय की कहानी आप भी देखिये।
निर्माण एवं प्रस्तुति – अपर्णा 
रिपोर्टिंग – भुवाल यादव 
संपादन  – पूजा 

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.