Friday, June 14, 2024
होमराजनीतिLok Sabha Election : संविधान को खत्म करने का प्रयास करने वालों...

ताज़ा ख़बरें

संबंधित खबरें

Lok Sabha Election : संविधान को खत्म करने का प्रयास करने वालों को सबक सिखाना होगा, छपरा में बोले लालू प्रसाद यादव

लालू प्रसाद ने केंद्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर परोक्ष रूप से प्रहार करते हुए कहा, ‘बाबा साहेब आंबेडकर के बनाए संविधान को मिटाने और खत्म करने का प्रयास किया जा रहा है। अगर संविधान नहीं होता तो न आरक्षण होता और न ही लोकतंत्र।

बुधवार को लालू प्रसाद यादव ने छपरा में चुनावी सभा को संबोधित किया। उनकी बेटी रोहिणी आचार्य सारण लोकसभा सीट से इंडिया गठबंधन के तहत राजद की उम्मीदवार हैं। रोहिणी आचार्य भाजपा प्रत्याशी राजीव प्रताप रूडी को चुनौती दे रही हैं। राजीव प्रताप रूडी पिछले 2 बार से सारण सीट से लोकसभा सांसद निर्वाचित हो रहे हैं। लालू प्रसाद यादव खुद भी कई बार सारण लोकसभा का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं।

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद ने बुधवार को छपरा में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए भाजपा पर वार किया। उन्होंने आरोप लगाया कि बाबा साहेब भीम राव आंबेडकर के बनाए जिस संविधान ने वंचित जातियों के लिए आरक्षण की व्यवस्था की उसे ‘मिटाने’ और ‘खत्म’ करने की कोशिश की जा रही है।

लालू प्रसाद ने केंद्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर परोक्ष रूप से प्रहार करते हुए कहा, ‘बाबा साहेब आंबेडकर के बनाए संविधान को मिटाने और खत्म करने का प्रयास किया जा रहा है। अगर संविधान नहीं होता तो न आरक्षण होता और न ही लोकतंत्र। हमें उन लोगों को सबक सिखाना होगा जो संविधान को खत्म करना चाहते हैं।’

राजद प्रमुख ने सोमवार को आरोप लगाया था कि भाजपा के नेता खुलेआम फिर से सत्ता में आने पर संविधान को बदलने की बातें कर रहे हैं लेकिन पार्टी और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इसको लेकर चुप्पी साधे हुए हैं। उन्होंने यह भी आरोप लगाया था कि इससे पूर्व आरएसएस सरसंघचालक मोहन भागवत ने भी आरक्षण की समीक्षा की बात की थी।

अपनी पुत्री रोहिणी के प्रचार के किए लालू प्रसाद के साथ उनकी पत्नी राबड़ी देवी भी मौजूद थीं।

सारण सीट को पहले छपरा के नाम से जाना जाता था। यहां से लालू प्रसाद ने 1997 में लोकसभा चुनाव लड़ा था। भाजपा के राजीव प्रताप रूडी इस समय यहां से सांसद हैं जो एक बार फिर भाजपा की ओर से मैदान में हैं।

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के छोटे बेटे और उनके राजनीतिक उत्तराधिकारी माने जाने वाले तेजस्वी यादव अब तक अकेले ही पार्टी का प्रचार अभियान संभाले रहे थे। उन्होंने पिता द्वारा अपनी बड़ी बहन के लिए प्रचार करने पर खुशी व्यक्त की।

इस दौरान तेजस्वी ने कहा, ‘मेरी बहन ने हमारे माता-पिता की अनुकरणीय सेवा की, वह उसी भावना से लोगों की सेवा करेगी।’ उनका इशारा रोहिणी आचार्य द्वारा लालू प्रसाद को गुर्दा दान किए जाने की ओर था।

आगे उन्होंने कहा ‘लोगों की इच्छा थी कि लालू जी उनके बीच आएं। उनकी इच्छा पूरी हुई, यह हम सभी के लिए खुशी की बात है।’

यह पूछा जाने पर कि राजद सुप्रीमो क्या आगे भी चुनाव प्रचार में शामिल होंगे तो तेजस्वी ने कहा, ‘वह उनके नेता हैं। उनके नेतृत्व में बिहार में ‘इंडिया’ गठबंधन काम कर रहा है, क्यों नहीं करेंगे।’

आपको बता दें कि सारण सीट पर लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण में 20 मई को मतदान होगा।

गाँव के लोग
गाँव के लोग
पत्रकारिता में जनसरोकारों और सामाजिक न्याय के विज़न के साथ काम कर रही वेबसाइट। इसकी ग्राउंड रिपोर्टिंग और कहानियाँ देश की सच्ची तस्वीर दिखाती हैं। प्रतिदिन पढ़ें देश की हलचलों के बारे में । वेबसाइट की यथासंभव मदद करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय खबरें